The News (All World Gayatri Pariwar)
Home Editor's Desk World News Regional News Shantikunj E-Paper Upcoming Activities Articles Contact US

ग्राम जागरण महायज्ञ एवं योग शिविर लाधूवाला- श्रीगंगानगर (राजस्थान),

ग्राम जागरण महायज्ञ एवं योग शिविर
लाधूवाला- श्रीगंगानगर (राजस्थान), 25 अक्टूबर से 27 अक्टूबर तक राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के लाधूवाला गांव में तीन दिवसीय ग्राम्य जागरण महायज्ञ और योग शिविर का शानदार कार्यक्रम आयोजित किया गया। देव संस्कृति विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने इस कार्यक्रम का संचालन किया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ जन जागरूकता रैली और मंगल कलश यात्रा के साथ हुआ। जिसमें गांव के महिलाओं, पुरूषों और विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने भारी संख्या में सहभाग किया। उसके बाद तीनो दिन पुस्तक मेले का आयोजन भी किया गया। गांव के बच्चों व प्रबुद्धों ने भारी संख्या में पुस्तकें खरीदी। शाम 7:30 बजे से 9:00 बजे तक गीत संगीत प्रवचन वीडियो संदेश, प्रजेन्टेशन का कार्यक्रम भी तीन दिनों तक समसामयिक समस्याओं पर आधारित बातो पर चिन्तन किया गया । कार्यक्रम के दूसरे दिन प्रातः 6:30 बजे से योग शिविर का आयोजन दे.सं.विवि के विद्यार्थियों ने किया जिसका लाभ गांव वालों ने खूब उठाया। 10 बजे से 12 बजे तक पाॅंच कुण्डीय गायत्री महायज्ञ में धर्मशील ग्रामवासियों ने आहुतियां समर्पित की। कार्यक्रम के अन्तिम दिन पूर्णाहुति में कई लोगों ने गायत्री मंत्र की दीक्षा ली और गांव की साफ-सफाई, पौध रोपण, नशा उन्मूलन और कुरीति उन्मूलन के लिए संकल्प लिया।

लाधूवाला ग्राम में पहली बार पाचॅं कुण्डीय यज्ञ का आयोजन
ग्रामवासियों का कहना था कि यह बड़ा ही अद्भूत एवं भव्य कार्यक्रम हमारे गांव में पहली बार हुआ है। पहली बार उन्होंने देखा कि व्यास मंच पर बैठी शांतिकुंज की टोली द्वारा वैदिक मंत्रों का उच्चारण इतना मधुर व लयबद्ध तरीके से यज्ञीय कर्मकांड संम्पन्न किया जा रहा है। कलश यात्रा जब पूरे गांव में भ्रमण कर कर रही थी तब इसे देखने के लिए सभी लोग अपने घरों से बाहर निकल आए और छत से पुष्प वर्षा भी करने लगे।
पाचॅं कुण्डीय यज्ञ में भक्ति भाव से शामिल हुए ग्रामवासी
गांव में पहली बार पाॅंच कुण्डीय यज्ञ का कार्यक्रम होने की वजह से भारी संख्या में पूरे भक्ति भाव से सभी ग्राम वासी शामिल हुए और गांवों को सुन्दर व स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया।
निःशुल्क चिकित्सा शिविर में उमड़े ग्रामवासी
देव संस्कृति विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने निःशुल्क योग चिकित्सा शिविर लगाया था जिसमें महिलायें और पुरूषों ने भाग लिया। इस शिविर में 2:30 से 4:00 बजे तक प्राकृतिक चिकित्सा, षटकर्म, प्राणिक हीलिंग, एक्यूप्रेशर, मर्म चिकित्सा जैसे वैकल्पिक चिकित्सा पद्धतियों के माध्यम से चिकित्सा सेवा प्रदान की गयी । विभिन्न प्रकार के रोगों जैसे गठिया, मधुमेह और पेट संबंधी समस्त बींमारीयों का निदान गांव वालों को बताया गया ।
पुस्तक मेला से हुआ युग ऋषि  के विचार क्रांति का विस्तार
पुस्तक मेला का आयोजन बड़ा आकर्षण का केन्द्र रहा। गांव के विद्यार्थियों और ग्रामवासियों ने अपनी-अपनी समस्या के अनुरूप पुस्तकों को खरीदा । बाल निर्माण की कहानियों को बच्चों ने खूब पसन्द किया, युवाओं ने हारिये न हिम्मत और सफल जीवन की दिशाधारा पुस्तक को जमकर खरीदा।









Click for hindi Typing


Related Stories
Recent News
Most Viewed
Total Viewed 687

Comments

Post your comment

gurudayal varma
2014-11-01 14:40:10
good news