The News (All World Gayatri Pariwar)
Home Editor's Desk World News Regional News Shantikunj E-Paper Upcoming Activities Articles Contact US

“तफ़ानों से डरें नहीं, यह पेड़ हमें बतलाते हैं । पतझड़ में पत्ते झड़ जाएँ, फिर भी ये मुस्काते हैं”

[बुरहानपुर ], May 21, 2017
बुरहानपुर :  “तफ़ानों से डरें नहीं, यह पेड़ हमें बतलाते हैं । पतझड़ में पत्ते झड़ जाएँ, फिर भी ये मुस्काते हैं” ऐसी ही न जाने कितनी प्रेरणाएं ये पेड़ हमें देते हैं और हमारे जीवन का आधार भी हैं फिर भी यह जमीन दिन प्रतिदिन पेड़ों से रुख्सत होती जा रही है |गायत्री परिवार के कुछ परिजनों ने मिलकर ६ वर्ष पहले बुरहानपुर में ताप्ती नदी के किनारे वृक्षारोपण अभियान चलाया था | उनके इस प्रयास के फलस्वरूप वह बंजर दिखने वाला इलाका आज हरा भरा दिख रहा है वर्तमान में पूरे भारत वर्ष को ऐसे ही अभियानों की आवश्यकता है |






Click for hindi Typing


Related Stories
Recent News
Most Viewed
Total Viewed 157

Comments

Post your comment