The News (All World Gayatri Pariwar)
Home Editor's Desk World News Regional News Shantikunj E-Paper Upcoming Activities Articles Contact US

देवात्मा हिमालय की गोद में युग निर्माणी आस्था की अनुपम झाँकी

[Himachal Pradesh], Jul 16, 2017
देवभूमि का पारंपरिक उल्लास 

कार्यक्रम के प्रति लोगों में भारी उल्लास दिखाई दिया। ५०० कलशों के साथ शानदार शोभायात्रा निकली। तेज गर्मी होने के बावजूद लगभग ११०० बहिनें इस कलश यात्रा में भाग लेने के लिए स्वेच्छा से अपनी भारी भरकम वेषभूषा में आयीं थीं। स्थानीय वाद्ययंत्रों, मनोरम झाँकियों ने कलश यात्रा की शोभा बढ़ाई। 

पूरे कार्यक्रम में ८ से १० हजार लोगों ने भाग लिया। दूर- दूर से लोग आये। पहाड़ी क्षेत्रों में इतने लोगों का उपस्थित होना एक बड़ी उपलब्धि माना जाता है। 

नड्डा दम्पति और स्थानीय विधायक राजा महेश्वर सिंह ने गायत्री परिवार की वेषभूषा में ही कार्यक्रम में भाग लिया। परम पूज्य गुरुदेव के विचारों, मिशन के सिद्धांतों तथा कार्यक्रमों के प्रति उनकी गहरी आस्था और समर्पणभाव देखते ही बनता था। 
७०० लोगों ने दीक्षा ली आदरणीय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी द्वारा २६ जून की प्रात: लगभग ७०० लोगों को दीक्षा दिलाया जाना और पूर्णाहुति के दिन भी बड़ी संख्या में दीक्षा, उपनयन, विद्यारंभ आदि संस्कारों का होना कार्यक्रम की शानदार सफलता का परिचायक है। उल्लेखनीय है कि हिमाचल औरउत्तराखंड में मुण्डन, उ उपनयन संस्कारों का विशेष महत्त्व है। दोनों राज्यों के गणमान्य और जनसामान्य इन दिनों गायत्री परिवार की संस्कार परम्परा को अपना रहे हैं। 

मुस्लिम भाइयों को ईद की बधाई आदरणीय डॉ. साहब ईद के दिन कुल्लू महायज्ञ में उपस्थित थे। उस दिन दीपयज्ञ में कुल्लू के जिलाधीश श्री यूनुस खान भी कार्यक्रम में पधारे थे। आदरणीय डॉ. साहब ने उन्हें अपने उद्बोधन के बीच देवमंच पर आमंत्रित कर गायत्री परिवार की ओर से सम्मानित किया, उन्हें गले  लगाया और उनके माध्यम से पूरे मुस्लिम समाज को ईद की शुभकामनाएँ दी। 

गणमान्यों की भागीदारी केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री नड्डा जी, विधायक राजा महेश्वर सिंह जी के अलावा अनेक गणमान्य पधारे। पूर्व बागवानी मंत्री श्री सत्यप्रकाश जी, विधायक मनाली श्री गोविंद सिंह ठाकुर, सेशन जज श्री पी.पी. रान्टा, पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष श्री हरिश्चंद्र शर्मा एवं अनेक जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण यज्ञ में भाग लेकर अपने को धन्य अनुभव कर रहे थे। 

लोक जागरण के नैष्ठिक प्रयास लोक जागरण ही कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य था। कार्यक्रम संयोजक डॉ. मनीराम राणा, हीरालाल ठाकुर, गिरजानंद शर्मा, श्री बी.के.भटनागर, देवेन्द्र गुप्ता आदि ने इसकी सफलता के लिए अथक पुरुषार्थ किया। ६ माह पूर्व से ही गाँव- गाँव यज्ञ, दीपयज्ञ, संस्कार, संगोष्ठियाँ की गयीं। एक माह तक गाँव- नगरों में शक्तिकलश ले जाया गया गया। 

प्रदर्शनी - परम पूज्य गुरुदेव के जीवन दर्शन और नशामुक्ति अभियान पर विशेष प्रदर्शनी लगायी गयी। लगभग १०० चित्रों वाली इस प्रदर्शनी के माध्यम से हजारों लोगों ने मिशन को समझा- सराहा। 

दीपयज्ञ - दीपयज्ञ के अवसर पर लगभग ७००० श्रद्धालु उपस्थित थे। आद. डॉ. साहब ने लोगों को आत्मबल संवर्धन के लिए उपासना, साधना, आराधना को जीवन का अनिवार्य अंग बनाने और समाज में सद्भाव बढ़ाने का संदेश दिया। 

शांतिकुंज का योगदान शांतिकुंज के पश्चिमोत्तर जोन ने भी यज्ञ की सफलता में भरपूर योगदान दिया। जोन प्रभारी प्रो. प्रमोद भटनागर, श्री सुखदेव शास्त्री, श्रीसालिकराम अत्रि ने कई दिनों पूर्व से ही कुल्लू पहुँचकर कार्यकर्त्ताओं का मार्गदर्शन किया। श्री मस्तराम शर्मा केन्द्रीय प्रतिनिधि के रूप में दो  माह तक क्षेत्र में जनजागरण करते रहे। श्री दिनेश मैखुरी शक्ति कलश रथ के साथ एक माह तक गाँव- गाँव गये। कार्यक्रम संचालन के लिए श्री परमानन्द द्विवेदी, उदय किशोर मिश्रा, हरिप्रसाद चौधरी, बसंत यादव, नारायण रघुवंशी, विनेश जोशी की टोली पहुँची थी। आदरणीयडॉ. साहब के साथ श्री सूरज प्रसाद शुक्ला संतोष सिंह, संतोष कावड़कर एवं मनोरंजन प्रधान के तकनीकी सहयोग से देश- विदेश के लाखों लोगों ने कार्यक्रम को इंटरनेट के माध्यम से देखा, प्रेरणा पायी।






Click for hindi Typing


Related Stories
Recent News
Most Viewed
Total Viewed 86

Comments

Post your comment