The News (All World Gayatri Pariwar)
Home Editor's Desk World News Regional News Shantikunj E-Paper Upcoming Activities Articles Contact US

शांतिकुंज के व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्मा जी आज अपनी गुरुसत्ता की सूक्ष्म चेतना में विलीन हो गये

[हरिद्वार 16 सितम्बर], Sep 16, 2017
गायत्रीतीर्थ-शांतिकुंज के व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्मा आज अपनी गुरुसत्ता की सूक्ष्म चेतना में विलीन हो गये। उन्होंने पौने तीन बजे अंतिम श्वास ली। श्री शर्मा जी ने रॉ के इंस्पेक्टर पद से स्वेच्छिक सेवानिवृत्त लेकर गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि पं.श्रीराम शर्मा आचार्य जी के श्रीचरणों में अपना जीवन समर्पित कर दिया था। मूलतः राजस्थान के भीलवाड़ा के रहने वाले श्री शर्मा 73 वर्ष के थे और वे पिछले 35 वर्षों से शांतिकुंज में थे। श्री शर्मा अपने पीछे धर्मपत्नी श्रीमती यशोदा शर्मा, पुत्र रोहित, पुत्रवधु श्रीमती अंतिमा शर्मा तथा दो पोते छोड़ गये हैं।            
     श्री शर्मा गायत्री परिवार के रचनात्मक कार्यों में से पीड़ितों की सेवा के लिए सदैव तत्पर रहते थे। वे शांतिकुंज की आपदा प्रबंधन टीम के प्रभारी थे और विभिन्न आपदा राहत कार्यों में सक्रियता के साथ भागीदारी करने के लिए उत्साहित रहते थे। ऐसे कामों के लिए वे अपनी टीम को सतत प्रेरित करते रहते थे।
     गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या व शैलदीदी ने श्री शर्मा जी के निधन को अपूरणीय क्षति बताया। उन्होंने कहा कि समाज को उनके जैसे लोकसेवियों की आज नितांत आवश्यकता है। प्रज्ञा अभियान के संपादक श्री वीरेश्वर उपाध्याय, केसरी कपिल, हरीश ठक्कर, डॉ. ओपी शर्मा आदि वरिष्ठ कार्यकर्त्ताओं ने अश्रुपूरित भावों से विदाई दी। साथ ही शहर के विभिन्न संगठनों, आश्रमों के वरिष्ठ जनों ने भी श्रद्धांजलि दी। खड़खड़ी स्थित श्मशान घाट में उनके पुत्र रोहित शर्मा ने मुखाग्नि दी। इस अवसर शांतिकुंज के अंतेवासी कार्यकर्त्ता एवं शहर के अनेक लोग शामिल रहे।






Click for hindi Typing


Related Stories
Recent News
Most Viewed
Total Viewed 8511

Comments

Post your comment

RAMANUJ
2017-09-25 15:47:58
गुरूसत्ता की सुछ्म चेतना मे विलीन आत्मा को शांती मिले ' OM -SHANTI,SHANTI,SHANTI '
Ram kumar singh
2017-09-19 14:17:31
Bahut dukhat samachar hai gurudev unko aatma ki santi de
SP Gabrielite
2017-09-19 10:14:44
May Maa Gayatri bless Shri Sharma Jis family and friends in this difficult time Shri Gouri Shankar Sharma Ji will always be remebered for his devotion to santikunj and to society by all associated with Santikunj and all who are on spritual path Om! Shanti Shanti Shanti
Rajesh Kumar
2017-09-19 09:55:14
bahut dukh hua hai.
pavan sharma
2017-09-18 18:02:44
bahut dukhad ghatna hai !!!!! gurusatta ke pyare shishy ke charno me humari shradhanjali
mukesh kumar singh
2017-09-18 10:12:44
sat sat naman
suryakant
2017-09-17 22:09:29
O nmh shivay
Onkar singh
2017-09-17 21:53:31
sat sat naman
NarendraNshukla
2017-09-17 19:48:30
जान कर दुख हुआ। महाकाल के कार्य में उन्होंने अपना जीवन समर्पित कर दिया और उन्हीं की सूक्ष्म सत्ता में विलीन हो गये। धन्य होते हैं ऐसे लोकसेवी। हमारी बहुत बहुत संवेदनाएं।
Davendra K Gupta
2017-09-17 18:08:00
Om Shanti;
ganesh sharma
2017-09-17 17:09:08
Hamein bahut dukh Hua ....aise Mahan prernadai vyakti Ki iss samaj ko aaj badi aavshyakta hai.....lekin hamein dukh hai Ki voh aaj hamare beeh nanhi rahe....bhagwan unki aatma ko shanti pradaan kare.....RIP.
विनोद जोशी
2017-09-17 16:51:27
गुरु सत्ता ने आपका चयन किया।और आपने अपना जीवन उनके कार्य मे समर्पित किया।निश्चित ही आप पूजनीय की श्रेणी में है।आप की आत्मा तो गुरु चरणों मे पहुच गई है।जहाँ असीम शांति है।मुक्ति है भव बंधनो से।आपने अपना जीवन सार्थक कर लिया। नमन।श्रद्धांजलि।
रविशंकर शर्मा
2017-09-17 11:31:49
गुरु सत्ता से मिलन होकर इस पावन धरा पर गुरु जी की तरह कल्याण कारी कार्य मे लगें रहे जय माँ गायत्री जय गुरुदेव
ARUN KUMAR YADAV
2017-09-16 21:23:41
RIP
Sanjay singh
2017-09-16 20:47:35
गुरूसत्ता की सुछ्म चेतना मे विलीन आत्मा को शांती मिले जय गुरूदेव
DIPAK KASHYAP
2017-09-16 19:38:00
GOURI SHANKAR JI APNE AAP ME ME PURA SHANTIKUNJ HI THE