सिंगापुर में सम्पन्न हुआ सामूहिक विद्यारम्भ संस्कार

Published on 2017-01-07

शांतिकुंज, हरिद्वार के जीवनदानी कार्यकर्ता श्री कालीचरण शर्मा जी एवं डॉ. सुलोचना शर्मा जी के नेतृत्व एवं मुख्य आतिथ्य में Sri Veeramakaliamman मंदिर के प्रांगण में ०७ जनवरी २०१७ को सामूहिक विद्यारम्भ संस्कार सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम में ३ से ७ वर्ष की उम्र के ३६ बच्चों का विद्यारम्भ संस्कार सम्पन्न कराया गया।

इस अवसर पर सिंगापुर की संस्था ‘विवेकानंद सेवा संघ’ के नगर-प्रमुख श्री केयूर दवे जी तथा सिंगापुर गायत्री परिवार के वरिष्ठ कार्यकर्ता श्रीमती शान्ता माहेश्वरी जी भी मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए।  कालीचरण शर्मा जी ने उपस्थित सभी परिजनों को जीवन में संस्कारों के महत्व पर संबोधित और प्रेरित किया। श्री केयूर जी ने उपस्थित समुदाय से आग्रह किया कि अपने बच्चों और उपस्थित परिवारजनों के साथ फोटो खींच कर भारत में निवास कर रहे अपने माता-पिता और अन्य सम्बन्धियों को भेजें तथा सोशल मिडिया पर भी साझा कर के इस तरह के कार्यक्रमों के प्रति जागरूकता पैदा करें। सिंगापुर के सभी गायत्री परिजनों के सम्मिलित प्रयासों से यह कार्यक्रम सफल रहा ।

कार्यक्रम के आयोजन में मंदिर समिति का भी योगदान सराहनीय रहा तथा न्यूनतम शुल्क पर ही मंदिर हाॅल तथा भोजन की व्यवस्था दी गई। कार्यक्रम में अपने पुत्र देवर्ष का संस्कार करवाने सम्मिलत हुए श्री चिराग जी ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इतने सुव्यवस्थित रूप से, संगीतमय आध्यात्मिक वातावरण में भारत से दूर रहकर भी संस्कारों की व्यवस्था का लाभ गायत्री परिवार के माध्यम से संभव हो सका यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है। आगे भी इसी तरह संस्कारों के प्रचार-प्रसार के लिए सहभागिता को सुनिश्चित करते हैं। इस अवसर पर परम पूज्य गुरुदेव श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा रचित साहित्य भी प्रदर्शित एवं वितरित किये गए।


Write Your Comments Here:


img

शराब से पीड़ित जनमानस की आवाज बनकर उभरा है गायत्री परिवार का प्रादेशिक युवा संगठन

शराबमुक्त स्वर्णिम मध्य प्रदेश

अखिल विश्व गायत्री परिवार की मध्य प्रदेश इकाई ने सितम्बर माह से अपने राज्य को शराबमुक्त करने के लिए एक संगठित, सुनियोजित अभियान चलाया है। इस महाभियान में केवल गायत्री परिवार ही नहीं, तमाम सामाजिक, स्वयंसेवी संगठनों.....

img

ग्राम तीर्थ जागरण यात्रा

चलो गाँव की  ओर ०२ से ०८ अक्टूबर २०१७हर शक्तिपीठ/प्रज्ञापीठ/मण्डल से जुडे कार्यकर्त्ता अपने- अपने कार्यक्षेत्र (मण्डल) के ग्रामों की यात्रा पर निकलेंसंस्कारयुक्त, व्यसनमुक्त, स्वच्छ, स्वस्थ, स्वावलम्बी, शिक्षित एवं सहयोग से से भरे- पूरे ग्राम बनाने के लिये अभियान चलायेंएक.....