Published on 2018-05-29

शांतिकुंज पहुंची उप्र की केबिनेट मंत्री


गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. पण्ड्या से लिया मार्गदर्शन


हरिद्वार २८ मई।

उप्र के केबिनेट मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी रविवार देर सायं गायत्री तीर्थ शांतिकुंज पहुंची। यहाँ उन्होंने गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या से मिलकर विविध विषयों पर मार्गदर्शन लिया। दोनों ने परिवार में सुसंस्कारिता लाने, समाज के चहुंमुखी विकास एवं नारी जागरण के विषय में करीब ४० मिनट चर्चा की।

               
इस अवसर पर गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. पण्ड्या ने बताया कि उप्र को उत्तम प्रदेश बनाने की दिशा में गायत्री परिवार सक्रिय है। उप्र को नशामुक्त बनाने की दिशा में भी सार्थक पहल की जा रही है। उन्होंने बताया कि च्व्यसन मुक्त उत्तर प्रदेशज् अभियान के अंतर्गत विगत ८ अप्रैल को राज्य के लाखों युवाओं ने व्यसन मुक्त बनाने की दिशा में विराट् नशा विरोधी रैली निकाली थी, जिसमें युवाओं ने स्वयं नशा छोड़ने तथा अपने एक साथी को दुर्व्यसन से दूर रहने के लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया। इसके साथ ही नारी जागरण के क्षेत्र में भी महापुरुषों की भूमि उप्र आगे बढ़ रही है।

               
केबिनेट मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि मैं उप्र के विकास के संबंध में पूज्य डॉ. साहब से परामर्श लेने आयी थी। उन्होंने उप्र को नशा मुक्त, युवा वर्ग को दुर्व्यसनों से बचाने सहित विभिन्न विषयों पर बहुत ही सुन्दर मार्गदर्शन दिया। इसे अमल में लाने का प्रयास करूँगी।

               
डॉ. जोशी देवसंस्कृति विवि के विभिन्न रचनात्मक क्रियाकलापों का भी अवलोकन किया।


Write Your Comments Here:


img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

देसंविवि के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ करते हुए डॉ. पण्ड्या ने कहा - कर्मों के प्रति समर्पण श्रेष्ठतम साधना

हरिद्वार 26 जुलाई।देसंविवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ के अवसर पर गीता का मर्म सिखाया। इसके साथ ही विद्यार्थियों के विधिवत् पाठ्यक्रम का पठन-पाठन का क्रम की शुरुआत.....