The News (All World Gayatri Pariwar)
Home Editor's Desk World News Regional News Shantikunj E-Paper Upcoming Activities Articles Contact US

माननीय प्रिंस चार्ल्स एवं अन्य महानुभावो के मध्य पहुँची देव संस्कृति की गूँज |

[Britain], Nov 08, 2017
माननीय प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या जी के १५ दिवसीय ब्रिटैन एवं यूरोप के दौरे का महत्वपुर्ण पड़ाव, जिसमे उन्हें Faith In Leadership संस्थान द्वारा विभिन्न धर्मो के आपसी सद्भाव विषय पर आयोजित परिचर्चा में आमत्रित किया गया | इस परिचर्चा में माननीय प्रिंस चार्ल्स, कैंटरबरी के आर्कबिशप, यहूदियों के मुख्य आचार्य, U.K. के ग्रह मंत्री एवं U.K. के प्रधान मंत्री कार्यालय के समस्त पदाधिकारी उपस्थित थे | इनके अतिरिक्त १५० से अधिक विविध धर्मो के वरिष्ठ आचार्य, कैथेड्रल के डीन, इमाम, रबी, गैर सरकारी संगठनो के प्रमुख आदि उपस्थित रहे |

यह कार्यक्रम रॉयल मेथोडिस्ट हॉल (जो वेस्टमिंस्टर के निकट एक बहुत प्रसिद्ध हॉल है और जहां 1940 में संयुक्त राष्ट्र बनाया गया था) में आयोजित किया गया था | इस कार्यक्रम में विभिन्न प्रमुखों में से केवल ५ प्रतिनिधियों को अपने विचार व्यक्त करने का अवसर प्राप्त हुआ जिसमे प्रिंस चार्ल्स, कैंटरबरी के आर्कबिशप, U.K. के ग्रह मंत्री और U.K. के प्रधान मंत्री के प्रतिनिधि के अतिरिक्त माननीय डॉ. चिन्मय पंड्या जी ने परम पूज्य गुरुदेव एवं वंदनीय माता जी के विचार व्यक्त किये |

माननीय प्रतिकुलपति महोदय के विचार से प्रभावित हो उन्हें दुसरे दिन हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स में अपने विचार अभिव्यक्त करने का आमंत्रण मिला जहाँ पर भी डॉ. पंड्या ने गुरुसत्ता के जीवन, उनके कार्य और गायत्री परिवार एवं देव संस्कृति विश्वविद्यालय की नवीन प्रणालियों से सबको अवगत कराया | उल्लेखनीय हैं की हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स में केवल वे ही आमंत्रित हैं जो की लार्ड की पदवी से सम्मानित हो |






Click for hindi Typing


Related Stories
Recent News
Most Viewed
Total Viewed 310

Comments

Post your comment

Prof. Keshavlal Patel
2017-11-19 10:03:02
Hearty congratulation for successfully convincing others about Vasudhev Kutumkam message in UK. We are arranging such lectures every year but no actions by other religion people. So to act for next step is most important.
Abhishek Pandey
2017-11-14 23:29:42
GURU JI KE BICHAR KO JAN JAN TAK PAHCHANE WALE AAP ES YUG KE VIVEKANAND HAI BHAIYA JI AAPKO PRANAM