img

जेपी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नालॉजी मेरठ में टेक स्पार्क 2014 के अंतर्गत राष्ट्रीय टेक्रीकल फेस्ट के सी प्रोग्रामिंग क्वीज प्रतियोगिता देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के बीसीए के प्रथम वर्ष के छात्र मनन सिंह ने द्वितीय स्थान प्राप्त कर उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। वहीं बीएससी द्वितीय वर्ष की छात्रा कनुप्रिया रावत ने पोस्टर प्रेजेंटेंशन में द्वितीय स्थान प्राप्त किया। इस प्रतियोगिता में देश के कई प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों के विद्यार्थी सम्मिलित थे। देसंविवि लौटने पर इन विद्यार्थियों का स्वागत किया गया।

            प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या ने भी छात्र.छात्राओं से मुलाकात कर शुभकामनाएँ दी और कहा कि कम्प्यूटर विभाग बहुत ही कम समय में विश्वविद्यालय के ष्टेक्नीकल वाइसष् के रूप में उभर रहा है। यहाँ प्रतिभाशाली शिक्षक एवं छात्र मिलकर कम्प्यूटर विभाग में नित नये समाजोपयोगी शोध को अंजाम दे रहे हैं। देसंविवि के कम्प्यूटर विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अभय सक्सेना ने बताया कि इस तरह की प्रतियोगिता में त्वरित निर्णय लेना होता है। विज्ञान के क्षेत्र में यहाँ के विद्यार्थी राष्ट्रीय एवं अंतराष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कार जीत चुके हैं। कम्प्यूटर विभाग के प्रवक्ता राजेश्वरी त्रिवेदी एवं पीयूष त्रिवेदी की नेतृत्व में चयनित छात्रों की टीम ने देसंविवि के आध्यात्मिक संस्कृति को भी राष्ट्रीय सेमीनार में प्रस्तुत कियाए जिसे देश के कोने.कोने से आये छात्रों ने खूब सराहा। छात्रों ने अपने जीत का श्रेय कुलाधिपति डॉ पण्ड्या का मार्गदर्शन एवं शिक्षकों की मेहनत को दिया।


Write Your Comments Here:


img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

देसंविवि के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ करते हुए डॉ. पण्ड्या ने कहा - कर्मों के प्रति समर्पण श्रेष्ठतम साधना

हरिद्वार 26 जुलाई।देसंविवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ के अवसर पर गीता का मर्म सिखाया। इसके साथ ही विद्यार्थियों के विधिवत् पाठ्यक्रम का पठन-पाठन का क्रम की शुरुआत.....