img

1॰ रविवार के साप्ताहिक कार्यक्रम:

  • कड़ी ठंड के वाबजूद भी आज के साप्ताहिक गोष्ठी एवं ध्यान-शिविर में लगभग 500 युवाओं ने शिरकत की ।जिनमे परिवार से पहली दफा रु-ब-रु होने वाले कुल 45 भाई पधारे थे।
  • मुख्य वक्ता के रूप में श्री निशांत रंजन,श्री मनीष कुमार एवं लंदन से पधारे http://youtu.be/Z5XSk3kzCyg" target="_blank">डॉ॰ गौरी शंकर (NRI) जी थे। बाल संस्कारशाला की एक बच्ची ने भी अपनी अनुभूति मंच पर रखी।
  • कार्यक्रम की शुरुआत संग्राम जिंदगी है,लड़ना इसे...  संगीत से श्री विद्या भूषण जी द्वारा किया गया।
2॰ बाल संस्कारशाला की रिपोर्ट:
  •  बाल संस्कारशाला का मुआयना करने कल शनिवार को हमारी मीडिया टीम गुलबी घाट गयी थी। वहाँ समयदान दे रहे 5-शिक्षकों से एवं 47-बच्चों से उन्होने मुलाक़ात की।
  • अन्य संस्कारशालाएँ भी सकुशल संचालित हो रही है।पहली जनवरी के मौके पर ये बहुत सारे कार्यक्रम आयोजित किए।


Find The Info Regarding प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ बिहार :

http://www.youtube.com/pragyagroup


Website: www.pypbihar.org
facebook: 
http://www.facebook.com/pypbiharorg
twitter: 
http://twitter.com/pypbihar
youtube: 
http://www.youtube.com/pragyagroup
google+: 
https://plus.google.com/photos/115100639640646030592/albums

blogger:  http://articles-pypbihar.blogspot.in/?view=classic

wordpress: http://thoughtspypbihar.wordpress.com/


Write Your Comments Here:


img

दीपयज्ञ और गायत्री महामंत्र लेखन महाअभियान महिला संगीत

आज गायत्री मंदिर माजन बैढन जिला सिंगरली म.प्र. में दीपमहायज्ञ का आयोजन किया गया।जिसमें महामंत्र लेखन अभियान के अंतर्गत 15 महिला मंडल की बहनो द्वारा मंत्रलेखन के लिए संकल्प लिया। साथ ही सभी ने नवरात्रि की साधना उपासना के लिए.....

img

व्यसन स्वरूप होलिका का किया दहन

गायत्री शक्तिपीठ नगवां,लंका,वाराणसी के सृजन सैनिकों ने निकाली जागरूकता रैली और अश्लीलता और व्यसन स्वरूप होलिका का किया दहन। शनिवार दिनांक 27 मार्च 2021 को गायत्री शक्तिपीठ नगवा,लंका,वाराणसी के सृजन सैनिकों ने व्यसन और अश्लीलता मुक्ति.....

img

40 दिवसीय साधना अनुष्ठान पूर्णाहुति 28 मार्च 2021

आज गायत्री शक्तिपीठ पचपेड़वा में 40 दिवसीय ( बसंत पर्व से होलिका ) विशेष ध्यान, साधना अनुष्ठान की पूर्णाहुति यज्ञके माध्यम से की गई।मानव में देवत्व का उदय, धरती पर स्वर्ग के अवतरण तथा कोरोना महामारी के निवारण के लिये.....