Published on 2017-11-13

प्रथम चरण के २० दिनों की उपलब्धियाँ

  • प्रतिदिन ५००- ६०० घरों से संपर्क हुआ।
  • १०,००० पुस्तकों के सेट ब्रह्मभोज योजना के अन्तर्गत बाँटे।
  • ३५ से ज्यादा प्रभातफेरियाँ, सार्वजनिक।
  • ११०० सद्वाक्य मंदिर, विद्यालय जैसे सार्वजनिक स्थानों पर लिखे।
  • अनेक स्कूलों और हजारों बच्चों से संपर्क हुआ।
जयपुर। राजस्थान
जयपुर के मानसरोवर क्षेत्र में २३ से २६ नवम्बर २०१७ तक की तारीखों में विशाल २५१ कुण्डीय देव संस्कृति पुष्टिकरण लोक आराधन महायज्ञ होने जा रहा है। इसके प्रयासस्वरूप ज्ञानरथों के माध्यम से चलाया जा रहा जनसंपर्क अभियान बड़ा सशक्त और अभूतपूर्व है।

मध्य प्रदेश के समर्पित कार्यकर्त्ताओं के सहयोग से इन दिनों जयपुर नगर में दो ज्ञानरथ जनसंपर्क अभियान में जुटे हैं। प्रात: प्रभातफेरी के साथ यह अभियान आरंभ हो जाता है। इसके माध्यम से प्रतिदिन अलग- अलग क्षेत्रों में ५०० से ६०० घरों तक पहुँचने, उन तक युगऋषि का साहित्य और महायज्ञ का आमंत्रण पहुँचाने में सफलता मिल रही है। दीपावली से पूर्व १७ तक सम्पन्न हुए २० दिनों के प्रथम चरण में इन ज्ञानरथों के माध्यम से सांगानेर, ब्रह्मपुर, वैशाली नगर, महारानी फार्म, महिन्द्रा सेज, मोज़माबाद, मानसरोवर क्षेत्रों में जनसंपर्क अभियान चलाया गया। दीपावली के बाद ज्ञानरथों के माध्यम से जनसंपर्क अभियान का दूसरा चरण आरंभ हो गया।


Write Your Comments Here:


img

Meeting

Up Jon Gwalior ki meting.....

img

पुरस्कार वितरण समारोह

मुज़फ्फ़रनगर। उत्तर प्रदेश जिले का भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा पुरस्कार वितरण समारोह 11 अगस्त को नौ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ के.....