Published on 2023-05-21 VARANASI

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid0326VkTTJDExQGZL6JMWWVLY9sy9DRPrGLfZNtqvq6Uz3RGhazqtvunvRwsLCM3A5fl&id=100050487125471&mibextid=Nif5oz
💐💐💐💐💐💐💐💐
*शानदार जीवन जीने हेतु विज्ञान व आध्यात्म के समन्वय की आवश्यकता जिसमें गायत्री शक्तिपीठ का यह प्रयास सराहनीय* आ.मनोज कुमार शर्मा जी (DIG,NDRF,वाराणसी)
💐💐💐💐💐💐💐💐
*स्थूल रूप से भले गायत्री परिवार का सदस्य नहीं पर मेरे रोम-रोम में बसते हैं श्रीराम जिनका एक सूत्रवाक्य मेरे मेज पर मैंने लगा रखा है"अपने लिए कठोरता एवं दूसरों के लिए उदारता* आ.बी.आर.शर्मा जी(कुलपति,श्री श्री रविशंकर विश्वविद्यालय,उड़ीसा)
💐💐💐💐💐💐💐💐
*20,21मई,शक्तिपीठ,लंका, वाराणसी।*
💐💐💐💐💐💐💐💐
*युग निर्माण कैसे होगा-व्यक्ति के निर्माण से।* इस वाक्य को चरित्रार्थ करने में सतत प्राणपण से प्रयासरत गायत्री शक्तिपीठ,नगवां,लंका, वाराणसी के प्रांगण में युगऋषि की मंशानुरूप शक्तिपीठ को जनजागरण के केंद्र रूप में, मानव गढ़ने की टकसाल के रूप में विकसित करते हुए *माह मई का 2 दिवसीय मौन साधना व् व्यक्तित्व परिष्कार शिविर दिनांक 20 व् 21 में सम्पन्न हुआ।*
यहां यह भी अवगत कराते चलें कि 2017 से ही शक्तिपीठ पर समय समय पर *वार्षिक कार्ययोजना जारी कर सतत इस प्रकार के प्रशिक्षण आयोजित हो रहे* जिसमें अब तक एक हजार से अधिक साधक प्रतिभाग कर चुके और प्रत्येक का यादगार पल उसी समय फेसबुक पर अंकित कर दिया गया।
प्रशिक्षणोपरांत विदाई के पल में गुरुकृपा से *प्रशिक्षण के प्रति प्रशिक्षार्थियों की प्राप्त लिखित व मौखिक अनुभूतियां व् अन्य स्वजनों की मंच से व प्रशिक्षकों से दी गई भावाभिव्यक्ति ने न केवल हम सभी को भावविह्वल किया* बल्कि बढ़ते कदमों को अकल्पनीय साहस,सम्बल व् ऊर्जा प्रदान किया।
💐💐💐💐💐💐💐💐
*प्रस्तुत है उपस्थित जनों की कुछ भावाभिव्यक्ति व् अनुभूतियां*-
💐💐💐💐💐💐💐💐
*शानदार जीवन जीने हेतु विज्ञान व आध्यात्म के समन्वय की आवश्यकता जिसमें गायत्री शक्तिपीठ का यह प्रयास सराहनीय* आ.मनोज कुमार शर्मा जी (DIG,NDRF,वाराणसी)
🌷🌷🌷
*स्थूल रूप से भले गायत्री परिवार का सदस्य नहीं पर मेरे रोम-रोम में बसते हैं श्रीराम जिनका एक सूत्रवाक्य मेरे मेज पर मैंने लगा रखा है"अपने लिए कठोरता एवं दूसरों के लिए उदारता* आ.बी.आर.शर्मा जी(कुलपति,श्री श्री रविशंकर विश्वविद्यालय,उड़ीसा)
🌷🌷🌷
*हमारे दोस्त व दुश्मन हम स्वयं।आध्यात्म ही जीवन का मूल आधार*-आ.(डॉ.)रोहित गुप्ता जी (मु.प्र.ट्रस्टी)
🌷🌷🌷
*(युगऋषि के शब्द)"मेरा जीवन ही मेरा सन्देश"मेरे जीवन का सूत्रवाक्य* आ.बृजेश पटेल जी (शक्तिपीठ जिला युवा समन्वयक,शक्तिपीठ मंडल संचालक एवं प्रशिक्षण प्रभारी)
🌷🌷🌷
इस दौरान विदाई सत्र में उपस्थित हमारे अन्य गायत्री परिवार के अग्रज स्वजनों *आ.रामजीत पांडेय जी(उपजोन समन्वयक,वाराणसी),आ.रमाकांत पाठक जी(शक्तिपीठ व्यवस्थापक),आ.पूर्णिमा भारद्वाज दीदी(शक्तिपीठ जिला महिला समन्वयक),आ.आभा लांबा जी(शक्तिपीठ जिला महिला मीडिया प्रभारी),आ.सुजाता सिंह जी(समर्पित परिजन),आ.श्यामधर पांडेय जी(बीएचयू प्रज्ञा मंडल संचालक),आ.संतोष कुमार सिंह जी व आ.गौतम कुमार लांबा जी(प्रोफेसर व वरिष्ठ परिजन काशी हिन्दू विश्वविद्यालय),आ.अरविंद श्रीवास्तव जी(शक्तिपीठ व्यवस्था सहायक),आ.कल्पनाथ जी(वरिष्ठ परिजन)* की उपस्थिति व प्रेरक शब्दों ने युवा प्रशिक्षक संचालकों को नव ऊर्जा प्रदान किया व सभी अग्रजों के कर कमलों से साधकों को प्रमाणपत्र भी वितरित किया गया।
💐💐💐💐💐💐💐💐
*प्रशिक्षण के बारे में प्रशिक्षार्थियों के अनुभूति प्रपत्र से प्राप्त कुछ अनुभूतियां*
💐💐💐💐💐💐💐💐
*शांतिकुंज में हूं ऐसा अनुभूत हुआ।वैसा ही वातावरण,वही आहार, वैसी ही बातें।*
🌷🌷🌷
*दो दिनों तक मोबाइल के जमा हो जाने के बावजूद ध्यान न भटका,इतना शानदार था प्रशिक्षण का वातावरण व शैली।*
🌷🌷🌷
*आने के 2 घंटे बाद ही ऐसा लगा जैसे स्वर्ग में आ गए हों।*
🌷🌷🌷
*प्रशिक्षकों का व्यवहार,शैली और उनका आपसी तालमेल प्रेरक रहा।*
🌷🌷🌷
*आज गुरुवर के बारे में गहराई से जानकर समर्पण और मजबूत हुआ है।*
🌷🌷🌷
*अदभुत,अकल्पनीय,जानदार, शानदार,यादगार प्रशिक्षण।*
🌷🌷🌷
*हर शक्तिपीठ पर ऐसे प्रशिक्षण की आवश्यकता।*
🌷🌷🌷
*मेरे पूरे जीवन का सबसे यादगार दिन बना यह प्रशिक्षण।*
🌷🌷🌷
*शक्तिपीठ में अदभुत ऊर्जा महसूस की।*
🌷🌷🌷
*दो दिन के प्रशिक्षण में जीवन बदलने के मिले सूत्र।*
🌷🌷🌷
*जब आये तो कुछ थे,अब कुछ और बनकर जा रहे।*
🌷🌷🌷
*आज सच्चे अर्थों में गुरुदेव को जान पाए।*
🌷🌷🌷
*अब तक का सामान्य जुड़ाव आज समर्पण में बदला।*
🌷🌷🌷
*साधना,अनुशासन,मौन व्रत, समय पालन व् प्रशिक्षण कौशल ने किया अत्यधिक प्रभावित।*
🌷🌷🌷
*संचालन मण्डल के सभी भाइयों का आपसी तालमेल,स्नेह व् कार्य विभाजन हृदय को छू गया।*
🌷🌷🌷
*जो स्नेह व् आत्मीयता यहाँ मिली वो अब तक कहीं न मिली।*
🌷🌷🌷
*गुरु के सूत्रों को अपने जीवन में उतारते हुए आज से ही जन जन में पहुंचाने हेतु समयदान,अंशदान को संकल्पित।*
🌷🌷🌷
*प्रशिक्षण में मिले युगऋषि के सूत्र "कहने वाला करने वाला हो" को जीवन का सूत्रवाक्य बनाकर जा रहे।*
💐💐💐💐💐💐💐💐
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏


Write Your Comments Here:


img

भारतीय संस्कृति को अपनाएं और अपने यौवन को सार्थक बनाएं - DIG,NDRFआ.मनोज शर्मा जी

भारतीय संस्कृति को अपनाएं और अपने यौवन को सार्थक बनाएं - DIG,NDRFआ.मनोज शर्मा जी 9 अप्रैल,शक्तिपीठ,लंका। गायत्री शक्तिपीठ,लंका के दिव्य प्रांगण में आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के.....

img

प्रतिष्ठित चिकित्सक की संस्कार परम्परा पर आस्था

नि:संतान दम्पतियों हेतु कार्यशालाउज्जैन। मध्य प्रदेशदिनांक 25 फरवरी 2023 को महाकालेश्वर आई.वी.एफ. सेंटर, जे.के. हॉस्पिटल में नि:संतान दंपत्तियों के लिए विशाल नि:शुल्क शिविर आयोजित किया गया। इस शिविर में जे.के. हॉस्पिटल की संचालिका डॉ. जया मिश्रा ने नि:संतानदम्पतियों के मार्गदर्शन.....

img

अत्यंत सफल और लोकप्रिय रहा नौ दिवसीय ज्ञानयज्ञ

नई दिल्लीप्रगति मैदान, नई दिल्ली में दिनांक 25 फरवरी से 5 मार्च 2023 की तिथियों में आयोजित विश्व पुस्तक मेला युगऋषि के विचार क्रान्ति के बीजों को बुद्धिजीवियों के मन-मस्तिष्क में प्रतिष्ठित करने की दृष्टि से बहुत सफल रहा। इस नौ दिवसीय ज्ञानयज्ञअनुष्ठान के माध्यम से.....