img



माँ गायत्री शक्तिपीठ निचलौल का प्राण प्रतिष्ठा समारोह २९ मार्च से १ अप्रैल की तारीखों में आयोजित २४ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ और प्रज्ञा पुराण कथा के साथ सम्पन्न हुआ। शांतिकुंज से पहुँची श्री विनय केसरी की टोली ने परम पूज्य गुरुदेव की दिव्य प्रेरणाओं के प्रभाव से छलकती आस्था के बीच नवरात्रि के प्रथम दिन गायत्री माता की प्राण प्रतिष्ठा करायी। संस्कार भी बड़ी संख्या में सम्पन्न हुए। 

इस समारोह में १७१ घरों में प्रज्ञा पुराण ग्रंथों की स्थापना का संकल्प लिया गया। स्थानीय कार्यकर्त्ताओं के अलावा प्रज्ञा मंडल ठुठीबारी व सिंदुरिया के भाई-बहिनों ने कार्यक्रम की सफलता में विशेष योगदान दिया। सर्वश्री आरएन पाण्डेय, हृदय शंकर सिंह, जितेन्द्र लाल श्रीवास्तव, हिमांशु कुमार गुप्त आदि प्रमुख रूप से सक्रिय रहे। 


Write Your Comments Here:


img

गुण, कर्म, स्वभाव का परिष्कार करने वाली विद्या को प्रोत्साहन मिले। श्रद्धेय डॉ. प्रणव जी

देव संस्कृति विश्वविद्यालय का 35वाँ ज्ञानदीक्षा समारोह 21 जुलाई 2019 को कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी की अध्यक्षता में.....

img

शिक्षण संस्थानों में परिचय के नाम पर उत्पीड़न नहीं, विद्यारंभ संस्कार होना चाहिए

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री का संदेश   यह ज्ञानदीक्षा समारोह जीवन के.....

img

तीर्थनगरी हरिद्वार में पाँच कार्यक्रम हुए शान्तिकुञ्ज के वरिष्ठ प्रतिनिधियों ने दिये प्रभावशाली संदेश

हरिद्वार। उत्तराखंड तीर्थ नगरी हरिद्वार में श्री आर.डी. गौतम एवं उनके सहयोगियों के प्रयासों से पाँच स्थानों पर गुरुपूर्णिमा.....