• आत्मिक ऊर्जा और  दिव्यता के उद्घाटन का एक ही मार्ग है अनुशासन, लगन और कठोर परिश्रम। अध्यात्मिक जीवन शैली अपनाकर इस राजमार्ग पर चलते हुए वह पद प्राप्त कर सकता है, जिसका अनुसरण करने के  लिए हर व्यक्ति दिखाई देता है। 
- डॉ. चिन्मय पंड्या, 
प्रतिकुलपति देसंविवि. 

मनुष्य का जीवन अनंत ऊर्जा और संभावनाओं से भरापूरा है। जन्म से वह विकास पतन की सारी संभावनायें लेकर आता है। लेकिन कितना बड़ा दुर्भाग्य है कि वह अपनी ही क्षमताओं से अनभिज्ञ रहकर भयंकर समस्याओं में जकड़ा हुआ है, तरह-तरह के दुःख भोग रहा है। जिन्होंने अपनी क्षमताएँ पहचानी वह विवेकानंद बन गया, महात्मा गाँधी बन गया, आइंस्टीन बन गया।

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या ने उपरोक्त वचनों के साथ सेना के ३५० प्रशिक्षणाधीन अफसरों को जीवन की नयी राह दिखाई। वे २ अप्रैल को इंडियन मिलिट्री अकादमी, देहरादून के रमन हॉल में आयोजित समारोह को ‘मानवीय उत्कर्ष’ विषय से संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मेजर जनरल वायएस महिवाल, ब्रिगेडियर एएस चहल, मेजर अमित डिमरी-ट्रेनिंग अधिकारी और शांतिकुंज प्रतिनिधि कर्नल उदय मिश्रा मुख्य रूप से उपस्थित थे। 

डॉ. चिन्मय ने नौजवानों से कहा कि अनुशासन, लगन और कठोर परिश्रम के साथ किये गये अभ्यास के परिणामों को आपसे बेहतर कौन जान सकता है। इनके सहारे आपने विशेष शारीरिक दक्षता प्राप्त की है। आत्मिक उर्जा और दिव्यता के उद्घाटन का भी यही एकमात्र मार्ग है। अध्यात्म के उपासना, ध्यान, जीवन साधना के प्रयोगों को अपनाकर हर व्यक्ति आत्मिक दृष्टि से ऊँचा उठता जाता है। वह पद, पैसा, प्रतिष्ठा के सामाजिक आकर्षणों से ऊपर उठकर वह पद प्राप्त कर लेता है, जिसका अनुसरण करने के लिए हर व्यक्ति लालायित दिखाई देता है। 

यह व्याख्यान पावर पॉइंट पर आधारित था। डॉ. चिन्मय का सहयोग करने शांतिकुंज से श्री संतोष सिंह, श्री रामावतार पाटीदार और श्री हरीश नेताम पहुँचे थे। मेजर जनरल महिवाल और डॉ. चिन्मय पण्ड्या द्वारा परस्पर सम्मान के भावभरे क्षणों के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। 


 


Write Your Comments Here:


img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

संस्कारित युवा पीढ़ी के निर्माण से होगा राष्ट्र निर्माण: नीलिमा

अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में स्थानीय रामकृष्ण आश्रम परिसर में जिला युवा प्रकोष्ठ द्वारा 5 दिवसीय युवा व्यक्तित्व निर्माण शिविर का आयोजन किया गया है | जहाँ शिविरार्थी योग, आसान, ध्यान  समेत आध्यात्मिक और बौद्धिक ज्ञान प्राप्त कर.....

img

नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में गायत्री परिवार का प्रतिनिधित्व

Nepal 8/8/17:-अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष्य में नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में भारत देश की तरफ से अखिल विश्व गायत्री परिवार के (DIYA TEAM)  के सदस्य श्री पी डी सारस्वत व श्री अनुज कुमार वर्मा सम्मेलन में.....