img

चार धाम यात्रियों को चिकित्सकीय सेवा प्रदान करने देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों का एक दल आज रवाना हुआ। इन विद्यार्थियों को राजकीय जिला चिकित्सालय के वरिष्ठ चिकित्सकीय टीम द्वारा बेसिक लाइफ सपोर्ट का व्यावहारिक प्रशिक्षण प्राप्त है। 

दल के रवाना होने से पूर्व कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि देसंविवि नित नये प्रयोग के तहत सेवा कार्य के लिए अपने विद्यार्थियों को प्रेरित, उत्साहित करते रहे हैं।   देवसंस्कृति का मूल आधार सेवा है और इसे देसंविवि में अध्ययनरत विद्यार्थियों में पिरोया जाता है। उन्होंने कहा कि चारधाम के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा- सुश्रुषा के दौरान और आवश्यकता पड़ने पर आपदा प्रबंधन से प्रशिक्षित टीम भी भेजी जायेगी। डॉ. पण्ड्या ने अपने तीन दशक से अधिक के चिकित्सकीय अनुभवों को भी  विद्यार्थियों से साझा किया। देसंविवि की संरक्षिका शैल दीदी ने मरीजों की सेवा को उपासना की भाँति करने की बात कही। यहाँ उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष केदारनाथ में हुई त्रासदी के समय में भी देवसंस्कृति विवि की चिकित्सकीय टीम अगत्स्यमुनि में सेवारत थी। जहाँ उन्होंने अपने पीठों में लादकर राहत सामग्री जरूतरमंदों तक पहुँचाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई। 

यह दल समन्वयक डॉ. चन्द्रप्रकाश त्रिपाठी (जिला अस्पताल, हरिद्वार), उपसमन्वयक डॉ. अजित तिवारी (राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय, अल्मोड़ा) के नेतृत्व में  कार्य करेगा। दल का बेस कैम्प सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अगस्त्यमुनि जनपद रुद्रप्रयाग रहेगा। जहाँ ये विद्यार्थी यात्रा में आने वाले जरूरतमंद श्रद्धालुओं की वैकल्पिक  चिकित्सा- एक्यूप्रेशर, मर्म चिकित्सा, योग, आहार, प्राकृतिक व पंचकर्म चिकित्सा से उपचार करेंगे। योग एवं मनोविज्ञान से परास्नातक देसंविवि के विद्यार्थी एक माह तक अपनी सेवाएँ देंगे। साथ ही यह दल हिमालय क्षेत्र में वृक्षारोपण का कार्य भी करेगा।



Write Your Comments Here:


img

ऑनलाइन योग सप्ताह आयोजन द्वादश योग :गायत्री योग

परम पूज्य गुरुदेव द्वारा लिखित पुस्तक  गायत्री योग, जिसके अंतर्गत द्वादश योग की चर्चा की गई है, का ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पांच दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया| इस कार्यक्रम में विशेष आकर्षण वीडियो कांफ्रेंस.....

img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....