img

हरिद्वार 13 फरवरी।


माँ सरस्वती के अवतरण दिवस एवं युगऋषि पं० श्रीराम शर्मा आचार्य जी की बोधदिवस के अवसर पर आयोजित वसंतोत्सव का आज विधिवत शुभारंभ हो गया।
उद्घाटन सत्र में हरिद्वार जनपद के वि भिन्न विद्यालयों के कक्षा दस से बारह तक के छात्र-छात्राओं के बीच  ‘विचारों से ही दुनिया बदलेगी’ विषय पर भाषण प्रतियोगिता हुई। बच्चों ने विचारों को बदलने एवं तदनुरूप कार्य करने पर जोरदार ढंग से अपनी बात रखी। इसमें प्रथम-अक्षिता झा, द्वितीय- महक नानकानि दोनों दिल्ली पब्लिक स्कूल तथा तृतीय दिव्या अग्रवाल राजकीय इंटर कॉलेज भीकमपुर रही।
तो वहीं अंतर महाविद्यालयीन स्तर राष्ट्र भक्ति, वसंत पर्व, नारी जागरण व युवाओं के जागरण संबंधी वाद विवाद प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने युवाशक्ति को झकझोर दिया। सभी इस बारे में एकमत थे कि युवाओं में प्रचण्ड ऊर्जा है, भले ही आज वह दिशाहीन होकर बिखर रही है। हमें इस युवाशक्ति को उचित दिशा की ओर प्रेरित करना चाहिए, जिससे हमारे राष्ट्र का निर्माण सफलतापूर्वक हो सके और हमारा भारत प्राचीन गौरव को पुन: प्राप्त कर सके। भारत की सांस्कृतिक विरासत को बचाये रखने में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित होनी चाहिए। तभी हम प्रगतिशील, विकसित राष्ट्र की कल्पना कर सकते हैं। इन प्रतियोगिताओं में दिल्ली पब्लिक स्कूल, राजकीय इंटर कॉलेज भीकमपुर, राजकीय इंटर कॉलेज रामनगर, गायत्री विद्यापीठ शांतिकुंज, जेएनपीजी कॉलेज, एचइसी पीजी कॉलेज, देवसंस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज आदि शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों ने भागीदारी की। देसंविवि के कुलपति डॉ एसडी शर्मा, कुलसचिव संदीप कुमार, शिक्षा संकाय के निदेशक डॉ रमन एवं शांतिकुंज के विदेश विभाग के प्रो प्रमोद भटनागर आदि उपस्थित थे।
इससे पूर्व महिला मण्डल की बहिनों द्वारा संचालित 27 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ में साधकों ने पर्यावरण संरक्षण, राष्ट्र को विकसित बनाने हेतु वैदिक मंत्रों से विशेष आहुतियाँ प्रदान की। तीन दिन चलने वाले इस वसंतोत्सव के लिए शांतिकुंज, देवसंस्कृति विवि को विशेष रूप से सजाया गया है।



Write Your Comments Here:


img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

देसंविवि के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ करते हुए डॉ. पण्ड्या ने कहा - कर्मों के प्रति समर्पण श्रेष्ठतम साधना

हरिद्वार 26 जुलाई।देसंविवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ के अवसर पर गीता का मर्म सिखाया। इसके साथ ही विद्यार्थियों के विधिवत् पाठ्यक्रम का पठन-पाठन का क्रम की शुरुआत.....