img


मुम्बई (महाराष्ट्र)
महानगर की भाग-दौड़ और कोलाहल से दूर प्रकृति के सान्निध्य में कितना आनंद है, आध्यात्मिक जीवन में कितना सुख है, इसकी प्रत्यक्ष अनुभूति करने-कराने के लिए ‘दिया’ मुंबई ने एक कार्यक्रम आयोजित किया-अंतर्नाद। मुंबई से १०० किमी. दूर सवरोली गाँव के एक फार्म हाउस में प्राकृतिक वातावरण में रहकर ध्यान, यज्ञ, योग जैसे कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। 

यह तीन दिवसीय कार्यक्रम दिया के सदस्य सुजाता एवं प्रसन्ना सोपारकर ने अपने फार्म हाउस पर आयोजन किया था। विभिन्न आयु वर्ग के 50 परिजनों ने इसमें भाग लिया। 

18 अप्रैल को अपराह्न शांतिकुंज से आये डॉ. चिन्मय पंडया के संदेश के वाचन से अंतर्जगत की यात्रा का शुभारंभ हुआ। प्रतिभागियों को भ् वर्गो में बाँटा गया। खुले आकाश में, तारों की छाँह में रात बितायी गयी। योग, प्राणायाम, ध्यान, यज्ञ व मन को आह्लादित करने वाले कई कार्यक्रम रखे गये । तनाव के कारण और उसके निवारण में अध्यात्म व प्रकृति की भूमिका पर चर्चा हुई। प्रत्येक वर्ग ने अपने विचार रखे। स्टीव जॉब की प्रेरक वीडियो भी दिखायी गयी। प्रतिभागियों ने अपने विचार रखते हुए कार्यक्रम को अन्तर्जगत की यात्रा के लिये बहुत लाभकारी एवं प्रभावकारी बताया। सोपारकर परिवार के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम की सफलता में बार्क मुम्बई, भिवंडी एवं थाने के परिजनों का प्रशंसनीय सहयोग रहा । 


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....