img


मुम्बई (महाराष्ट्र)
महानगर की भाग-दौड़ और कोलाहल से दूर प्रकृति के सान्निध्य में कितना आनंद है, आध्यात्मिक जीवन में कितना सुख है, इसकी प्रत्यक्ष अनुभूति करने-कराने के लिए ‘दिया’ मुंबई ने एक कार्यक्रम आयोजित किया-अंतर्नाद। मुंबई से १०० किमी. दूर सवरोली गाँव के एक फार्म हाउस में प्राकृतिक वातावरण में रहकर ध्यान, यज्ञ, योग जैसे कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। 

यह तीन दिवसीय कार्यक्रम दिया के सदस्य सुजाता एवं प्रसन्ना सोपारकर ने अपने फार्म हाउस पर आयोजन किया था। विभिन्न आयु वर्ग के 50 परिजनों ने इसमें भाग लिया। 

18 अप्रैल को अपराह्न शांतिकुंज से आये डॉ. चिन्मय पंडया के संदेश के वाचन से अंतर्जगत की यात्रा का शुभारंभ हुआ। प्रतिभागियों को भ् वर्गो में बाँटा गया। खुले आकाश में, तारों की छाँह में रात बितायी गयी। योग, प्राणायाम, ध्यान, यज्ञ व मन को आह्लादित करने वाले कई कार्यक्रम रखे गये । तनाव के कारण और उसके निवारण में अध्यात्म व प्रकृति की भूमिका पर चर्चा हुई। प्रत्येक वर्ग ने अपने विचार रखे। स्टीव जॉब की प्रेरक वीडियो भी दिखायी गयी। प्रतिभागियों ने अपने विचार रखते हुए कार्यक्रम को अन्तर्जगत की यात्रा के लिये बहुत लाभकारी एवं प्रभावकारी बताया। सोपारकर परिवार के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम की सफलता में बार्क मुम्बई, भिवंडी एवं थाने के परिजनों का प्रशंसनीय सहयोग रहा । 


Write Your Comments Here:


img

बालसंस्कारशाला

शक्तिपीठ युवामंडल द्वारा प्रत्येक रविवार को शाहजहांपुर नगर क्षेत्र में आठ बाल संस्कार शाला संचालित होती है जिसमें शक्तिपीठ बाल संस्कारशाला ,आनंद बाल संस्कार शाला भगवती बाल संस्कार शाला ,शिव बाल संस्कार शाला ,श्री राम बाल संस्कार शाला ,स्वामी विवेकानंद.....

img

सम्मान समारोह

13/10/19 को गायत्री प्रज्ञा पीठ कुँवाखेड़ा लक्सर हरिद्वार उत्तराखंड में वरिष्ठ कार्यकर्ता श्री बूलचंद जी को शारिरिक कार्य से विश्राम एवँ मार्गदर्शक नियुक्त होने पर उनका सम्मान एवं भोग प्रसाद का कार्यक्रम संम्पन हुआ।.....