img


छत्राल, महेसाणा (गुजरात)
मोटा बार कड़वा पाटीदार समाज की धर्मशाला, छत्राल में ९ से १३ मई की तारीखों में अहमदाबाद जिले के कार्यकर्त्ताओं ने विशेष शक्ति साधना प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया। शांतिकुज मनीषी श्री वीरेश्वर उपाध्याय जी की उपस्थिति में लगभग १५० भाई-बहिनों ने इसका लाभ लेते हुए आत्मिक प्रगति की दिशा में उत्साहवर्धक कदम बढ़ाये। शांतिकुंज प्रतिनिधि ने परम पूज्य गुरुदेव की प्रेरणा और शिष्यों के नैतिक दायित्वों का बोध कराते हुए साधकों में उद्देश्यपूर्ण जीवन जीते हुए अपने लिए नहीं, समाज के लिए का उत्साह उभारा। इस शिविर के आयोजन में त्रिपदा शैक्षणिक आरोग्य चैरिटेबल ट्रस्ट तथा श्रीमती जयश्रीबेन राजूभाई पटेल, श्री राजूभाई आई पटेल आदि का उल्लेखनीय सहयोग रहा।

भोपाल (मध्य प्रदेश)
गायत्री शक्तिपीठ भोपाल पर ६ दिवसीय विशेष साधना शिविर आयोजित हुआ। शांतिकुंज मनीषी आदरणीय श्री वीरेश्वर उपाध्याय जी और मध्य जोन समन्वयक श्री विष्णु पण्ड्या का सान्निध्य पाकर साधकों को उच्च स्तरीय साधनाओं का अभ्यास करते हुए साधना की गहराई में प्रवेश करने का अवसर मिला। 

आदरणीय श्री उपाध्याय जी ने परम पूज्य गुरुदेव के व्यावहारिक अध्यात्मवाद के सूत्रों की कसौटी पर खरे उतरने, सेवा-साधना से जीवन धन्य बनाने, महाकाल के अंग-अवयव बनकर उनके सतयुगी संकल्पों को साकार करने की प्रेरणाएँ प्रदान कीं। उन्होंने कहा कि साधना से जीवन में विनम्रता, सामंजस्य, स्नेह, उदारता जैसे दिव्य गुणों की वृद्धि होती जाती है, जिनके सहारे घर-परिवार स्वर्ग बनता जाता है। 


बायड, साबरकांठा (गुजरात)
गायत्री शक्तिपीठ बायड पर ३ से ७ मई की तारीखों में शक्ति साधना शिविर का आयोजन हुआ। इस आवासीय शिविर का ८० भाई-बहिनों ने लाभ लिया। शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री रामयश तिवारी और श्री योगेश पटेल की टोली ने इसका संचालन किया। उन्होंने परम पूज्य गुरुदेव और परम वंदनीया माताजी जैसी महाकाल स्वरूप गुरुसत्ता के सान्निध्य-संरक्षण का लाभ लेकर आत्मिक क्षमताओं के विकास के लिए विविध साधनाएँ करने की स्फुरणा शिविरार्थियों में जगायी। आत्मबोध, तत्त्वबोध, आसन, प्राणायाम, बंध, मुद्रा, समूह साधना, प्रार्थना पर विस्तार से मार्गदर्शन दिया। सामूहिक साधना प्रयोगों ने साधकों को गहन शांति, मन की प्रसन्नता की अनुभूति करायी। 



Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....