देसंविवि के नवप्रवेशी विद्यार्थियों का उन्मुखीकरण शिविर का समापन 


हरिद्वार स्थित देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में नवप्रवेशी छात्र- छात्राओं का उन्मुखीकरण शिविर सम्पन्न हुआ। तीन दिन तक चले इस शिविर में नवप्रवेशी विद्यार्थियों को उनके आध्यात्मिक विकास के लिए योग, यज्ञ और ध्यान की त्रिवेणी में स्नान कराया गया, साथ ही उन्हें देसंविवि के विभिन्न प्रकल्पों की जानकारी भी दी गयी एवं शांतिकुंज के रचनात्मक कार्यक्रमों तथा ब्रह्मवर्चस शोध संस्थान में किये जा रहे शोधों से अवगत कराया गया। इसमें विभिन्न राज्यों के विद्यार्थियों के साथ विदेशी छात्र- छात्राओं ने रुचिपूर्वक भाग लिया। 

उन्मुखीकरण शिविर का समापन देसंविवि के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या के उद्बोधन के साथ हुआ। प्रतिकुलपति के उद्बोधन ने विद्यार्थियों को जोश और उत्साह से सराबोर कर दिया। पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से मानवीय उत्कर्ष विषय को उन्होंने सहज ढंग से समझाया। जीवन को बेहतर बनाने के सूत्र देते हुए डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने कहा कि सही दृष्टिकोण, परोपकार, उद्देश्य और संकल्प विद्यार्थी को ऊंचा उठाने का काम करते हैं। विद्यार्थी अपने जीवन लक्ष्य निर्धारित कर लेते हैं तो उचित मार्गदर्शन उस लक्ष्य तक पहुंचने में मदद करते हैं। 

इससे पूर्व कुलपति डॉ शरद पारधी ने परिवार के नये सदस्य के रूप में नवप्रवेशी विद्यार्थियों का स्वागत किया। इन विद्यार्थियों ने देसंविवि के अभिभावकद्वय श्रद्धेय डॉ प्रणव पण्ड्या एवं श्रद्धेया शैल दीदी से आशीष लिया। शिविर में बीए,बीएससी, बीसीए, एमए, एमएससी सहित विभिन्न पाठ्यक्रमों के चयनित नवप्रवेशी विद्यार्थियों ने भागीदारी की। देसंविवि के विभिन्न्न विभागों के अध्यक्षों ने भी बच्चों को मार्गदर्शन दिया।






Write Your Comments Here:


img

दे.स.वि.वि. के ज्ञानदीक्षा समारोह में भारत के 22 राज्य एवं चीन सहित 6 देशों के 523 नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

जीवन खुशी देने के लिए होना चाहिए ः डॉ. निशंकचेतनापरक विद्या की सदैव उपासना करनी चाहिए ः डॉ पण्ड्याहरिद्वार 21 जुलाई।जीवन विद्या के आलोक केन्द्र देवसंस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में नवप्रवेशार्थी समाज और राष्ट्र सेवा की ओर.....

img

देसंविवि की नियंता एनईटी (योग) में 100 परसेंटाइल के साथ देश भर में आयी अव्वल

देसंविवि का एक और कीर्तिमानहरिद्वार 19 जुलाईदेव संस्कृति विश्वविद्यालय ने एनईटी (नेशनल एलीजीबिलिटी टेस्ट -योग) के क्षेत्र में एक और कीर्तिमान स्थापित किया है। देसंविवि के योग विज्ञान की छात्रा नियंता जोशी ने एनईटी (योग)- 2019 की परीक्षा में 100.....

img

देसंविवि का 35वाँ ज्ञानदीक्षा समारोह 21 जुलाई को

हरिद्वार 19 जुलाईजीवन विद्या के आलोक केन्द्र देव संस्कृति विश्वविद्यालय का 35वाँ ज्ञानदीक्षा समारोह 21 जुलाई को सम्पन्न होगा। इस समारोह में सर्टीफिकेट, डिप्लोमा, स्नातक व परास्नातक के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं को दीक्षित किया जायेगा। समारोह के मुख्य अतिथि केन्द्रीय मानव.....