img



झाबुआ जिले के वनवासी अंचल में समूह साधना का सुंदर वातावरण बन रहा है। गायत्री शक्तिपीठ बसंत कॉलोनी के प्रयासों से इस अंचल के पेटलावद, थांदला, खवासा, अलीराजपुर, सारंगी आदि नगरों में घर-घर साधना अभियान चल पड़ा है। इसके अंतर्गत मौन मानसिक जप के साथ परम पूज्य गुरुदेव के स्वर के साथ गायत्री मंत्रजप, उनकी अमृतवाणी का स्वाध्याय आदि क्रम भी चलाये जा रहे हैं। 

समूह साधना का यह क्रम प्रतिदिन अलग-अलग घरों में रखा जाता है। लोगों को समूह साधना से समूह मन के निर्माण और उसके बेहतर परिणामों की जानकारी दी जा रही है। वर्षा में हो रहे विलंब ने भी लोगों में समूह साधना के प्रति आस्था बढ़ाई है। वर्षा के लिए विशेष सामूहिक प्रार्थना और आहुतियों को भी समूह साधना क्रम से जोड़ा जा रहा है। 

समूह साधना का यह क्रम श्री विनोद जायसवाल के घर से आरंभ हुआ। सर्वश्री शंभुसिंह पुरोहित, श्याम त्रिवेदी, मुन्नीबेन शर्मा, सुजाता जायसवाल, स्नेहलता पुरोहित, श्रीमती डांगी एवं श्री विनोद गुप्ता अभियान को लोकप्रिय बनाने में अग्रिम योगदान दे रहे हैं। 



Write Your Comments Here:


img

हिमालय शिखर पर जनमंथन से जागी आस्था

मुनस्यारी, पिथौरागढ़। उत्तराखंड हिमालय के उत्तुंग शिखर पर स्थित जीवन साधना के अद्वितीय केन्द्र गायत्री चेतना केन्द्र मुनस्यारी में इस.....

img

शिक्षण संस्थानों में 105 पेड़ लगाए

पटना। बिहारअखिल विश्व गायत्री परिवार की पटना शाखा से जुड़ी श्रीमती उषा प्रभा के प्रयास से 8 जुलाई को बृहत् वृक्षारोपण अभियान चलाया गया जिसमें गायत्री परिवार के सदस्य एवं वेटरनरी कॉलेज पटना के छात्र- छात्राओं ने मिलकर कॉलेज परिसर.....