परिवार ने खोए तीन बच्चों को श्रद्धांजलि 

हरिद्वार 5 अगस्त। देव संस्कृति विश्वविद्यालय के तीन छात्रों की दो दिवस पूर्व हुई घटना को आज तीन दिन पूर्ण हो रहे हैं। किन्तु देव संस्कृति परिवार इस सदमे से आज भी उभर नहीं पाया है। परिसर के हर क्षेत्र में सन्नाटा छाया हुआ है। इस बीच देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डाॅ. प्रणव पण्ड्या जी की उपस्थिति में मृत्युजंय सभागार में शोक सभा का आयोजन किया किया गया। इस अवसर पर डाॅ. प्रणव पण्ड्या जी ने कहा कि यह घटना हमारे लिए एवं शोक संतप्त परिवार के लिए अपूर्णनीय क्षति है। देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं शांतिकुंज एक परिवार है। परिवार का एक भी सदस्य बिछुड़ता है तो उसकी पूर्ति करना संभव नहीं। डाॅ. पण्ड्या ने कहा कि इन तीनों छात्रों की अनुरक्षण राशि (फीस) वापस करने एवं यथासंभव आर्थिक मदद करने का बात कही। साथ छात्र सूरज की बहन कु. सरोजनि को निःशुल्क शिक्षा की व्यवस्था देव संस्कृति परिवार करेगा। इस अवसर पर शांतिकुंज मै गायत्री परिवार प्रमुख श्रद्धेया शैलबाला पण्ड्या, शांतिकुंज व्यवस्थापक श्री गौरी शंकर शर्मा सहित कुलपति श्री शरद पारधी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार आदि समस्त विद्यार्थी एवं आचार्यों द्वारा गायत्री मंत्र एवं महामृत्यजंय मंत्र से दिवंगत आत्माओं की शांति हेतु प्रार्थना की गई। इस अवसर पर कुलपति शरद पारधी ने इस दुःखद घटना में सहयोगी जिला प्रशासन, पुलिस एवं मीडिया का हृदय से आभार व्यक्त किया। 





Write Your Comments Here:


img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

देसंविवि के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ करते हुए डॉ. पण्ड्या ने कहा - कर्मों के प्रति समर्पण श्रेष्ठतम साधना

हरिद्वार 26 जुलाई।देसंविवि के कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के नये शैक्षिक सत्र का शुभारंभ के अवसर पर गीता का मर्म सिखाया। इसके साथ ही विद्यार्थियों के विधिवत् पाठ्यक्रम का पठन-पाठन का क्रम की शुरुआत.....