प्रवासी भारतीय बँटा रहे हैं देश का दर्द

img


  • लोकप्रिय हुआ एक स्वयंसेवक का जनसंपर्क अभियान, ऑकलैण्ड शाखा पूरी करेगी साहित्य की माँग

ऑकलैण्ड, न्यूज़ीलैण्ड निवासी मिशन के प्रमुख कार्यकर्त्ता श्री जयंती भाई मेहता ने शांतिकुंज के जीवनदानी कार्यकर्त्ता श्री संतराम सेन द्वारा चलाये जा रहे नशामुक्ति अभियान को समग्र सहयोग देने का संकल्प लिया है। इसके लिए वे उन्हें एक लाख रुपये का नशामुक्ति संबंधी साहित्य उपलब्ध करा चुके हैं। भविष्य में उन्हें साहित्य की जो भी आवश्यकता होगी उसकी पूर्ति उनकी शाखा द्वारा की जायेगी, ऐसा आश्वासन उन्होंने दिया है। 

पिछले २५ वर्षों से ऑकलैण्ड में रह रहे श्री जयंती भाई वर्ष २००७ से अपना पूरा समय मिशन के प्रचार-प्रसार के लिए ही लगाते हैं। वे यज्ञ आयोजनों के माध्यम से गुरुदेव की सत्प्रेरणाओं के प्रचार-प्रसार के साथ बच्चों को संस्कारवान बनाने के लिए मुख्य रूप से प्रयत्नशील हैं। उनका मानना है कि न्यूज़ीलैण्ड वासियों के जीवन में भले ही भौतिकवादी सोच और परंपराएँ जड़ कर गयी हों, लेकिन बचपन से ही बच्चों को बदलने के प्रयास किये जायें तो समाज में काफी परिवर्तन किया जा सकता है। 

श्री जयंती भाई के दिल में अपने देश के सुधार के लिए भी बहुत दर्द है। वे स्वयं तो यहाँ काम नहीं कर पाते, लेकिन चाहते हैं कि कोई यदि लोगों में नवचेतना जगाने के लिए समर्पित भाव से काम करता है तो वे उसका वित्त पोषण कर सकते हैं। संयोग से शांतिकुंज के श्री संतराम सेन द्वारा चलाये जा रहे आन्दोलन में उन्हें अपनी अपेक्षाएँ पूरी होती दिखाई दीं, जिसके कारण जयंती भाई ने उनका पूरा-पूरा सहयोग करने का संकल्प ले लिया। 

श्री संतराम सेन प्रतिदिन नशामुक्ति के बैनर और झंडों से सजी साईकिल पर सवार होकर हरिद्वार नगर के विभिन्न मुहल्लों, बाजारों में निकल जाते हैं और नशामुक्ति का बड़ा सशक्त अभियान चला रहे हैं। जो भी बीड़ी, सिगरेट पीता, गुटखा खाता दिखाई देता है उसके पास रुककर बड़ी विनम्रता के साथ नशामुक्ति की प्रेरणा देने वाली एक छोटी-सी पुस्तक और पर्चा थमाते हुए अपने साथ समाज की, परिवार की भलाई के लिए नशा छोड़ने का निवेदन करते हैं। प्रतिदिन सैकड़ों लोगों को वे ऐसी प्रेरणा देते हैं। तीर्थक्षेत्र में आये यात्री अपनी गलती का अहसास करते हुए बड़ी सहजता के साथ नशा त्यागने का संकल्प भी लेते हैं। इस अभियान में अनेक बार पूरी टोली सेन जी के साथ होती है।


Write Your Comments Here:


img

पर्यावरण संरक्षण के लिए हुई प्रशंसनीय पहल

एक डॉक्यूमेण्ट्री ने बदल दी लोगों की आदतयूनाइटेड किंगडमवर्षों बाद लंदन की कई कॉलोनियों में पहले की तरह सुबह- सुबह दूध की डिलीवरी करने वाले दिखने लगे हैं। अब लोग प्लास्टिक की बोतलों में नहीं, काँच की बोतलों में दूध.....

img

डलास, अमेरिका में हुआ १०८ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ

वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए संघबद्ध आध्यात्मिक पुरुषार्थ का आह्वान १५ अप्रैल को हिन्दू मंदिर सोसाइटी, डलास में १०८ कुण्डीय महायज्ञ सम्पन्न हुआ। गायत्री परिवार के सदस्यों सहित डलास और आसपास के नगरों से आये सैकड़ों श्रद्धालुओं ने.....

img

पूर्वी अफ्रीका में शांतिकुंज की टोली का प्रवास

यूगांडा, तंजानिया और केन्या में १०८ कुण्डीय यज्ञ हुएशांतिकुंज प्रतिनिधि श्री शांतिलाल पटेल, श्री ओंकार पाटीदार एवं श्री बसंत यादव की टोली ८ मार्च से १६ अप्रैल तक यूगांडा, तंजानिया और केन्या के प्रवास पर थी। इस प्रवास में तीनों.....