देव संस्कृति विश्वविद्यालय से जुड़े हिन्दू यूनिवर्सिटी ऑफ अमेरिका एवं राइट बिजनेस यूनिवर्सिटी


देव संस्कृति विश्वविद्यालय और अमेरिका के दो प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों- हिन्दू यूनिवर्सिटी, ओरलेंण्डो-फ्लोरिडा तथा शिकागो की राइट बिजनेस यूनिवर्सिटी के बीच शिक्षा, अन्तर्राष्ट्रीय प्रकाशन, सेमिनार एवं प्रशिक्षण के क्षेत्र में समझौते हुए। देव संस्कृति के विश्वव्यापी विस्तार के लिए देव संस्कृति विश्वविद्यालय द्वारा किये जा रहे प्रयासों के अंतर्गत यह सफलता अत्यंत महत्त्वपूर्ण है।

21 जुलाई को डॉ. चिन्मय श्री विपुल पटेल एवं श्री राजकुमार वैष्णव के साथ ओरलेंण्डो-फ्लोरिडा पहुँचे। वहाँ डॉ. चिन्मय जी ने श्री बलराम अग्रवाल-चेयरमेन एवं बोर्ड ऑफ डायरेक्टर, हिन्दू यूनिवर्सिटी के साथ मेमोरेंडम ऑफ अण्डरस्टैण्डिंग पर हस्ताक्षर किये। इससे पूर्व डॉ. यशवन्त पाठक, चेयर एकेडमिक काउंसिल हिन्दू यूनिवर्सिटी ऑफ अमेरिका, असिस्टेंट डीन, कॉलेज ऑफ फार्मेसी, अमेरिका के इन्टरनेशनल सेंटर फॉर कल्चरल स्टडीज़ (आईसीसीएस), एकल विद्यालय फाउंडेशन एवं पातंजलि योग पीठ से जुड़े श्री बलराम अग्रवाल-चेयरमेन एवं बोर्ड ऑफ डायरेक्टर, हिन्दू यूनिवर्सिटी एवं श्री धनंजय जोशी के साथ समझौते के बिंदुओं पर लगभग एक घंटे तक चर्चा हुई। 

दूसरा समझौता 29 जुलाई को राइट ग्रेजुएट यूनिवर्सिटी फार्मस् ग्लोबल पार्टनरशिप फॉर लीडरशिप डेवलेपमेंट के साथ हुआ। डॉ. माइकल ज्वेल यूनिवर्सिटी चांसलर तथा देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये। हस्ताक्षर से पूर्व उनकी डॉ. बॉब राइट-डॉ.जूडीथ राइट यूनिवर्सिटी के संस्थापक,  डॉ. माइकल ज्वेल, चांसलर के साथ सहयोग के बिन्दुओं पर विस्तृत चर्चा हुई। उल्लेखनीय है कि डॉ. बॉब राइट अपने प्रतिनिधि मण्डल के साथ शांतिकुंज-देव संस्कृति विश्वविद्यालय आकर कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या जी से मिल चुके हैं। वे गुरुदेव के विचारों और मिशन की योजनाओं से बहुत प्रभावित हैं।

राइट ग्रेजुएट यूनिवर्सिटी में ‘ह्यूमन एक्सीलेंस’ विषय पर उद्बोधन भी हुआ। लगभग डेढ़ सौ विद्यार्थियों एवं ऑनलाईन पाँच संस्थानों के विद्यार्थियों ने इसे सुना। डॉ. बाब राइट ने देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं शांतिकुञ्ज द्वारा चलाये जा रहे आपदा प्रबंधन एवं गंगा सफाई अभियान की जानकारी दी। उत्तराखंड-केदारनाथ की दुर्घटना के समय शांतिकुज द्वारा की गयी सेवा के संस्मरणों ने श्रोताओं की आँखें सजल दीं। करतल ध्वनि से उन्होंने इस सेवाभाव का अभिनंदन किया। इसी मंच पर एम.ओ.यू. हस्ताक्षर हुए। इस अवसर पर शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री राजकुमार वैष्णव, श्री शांतिभाई पटेल तथा शिकागो निवासी श्री हरेन्द्र मांगरोला व श्री नरेन्द्र देसाई भी उपस्थित थे। 



Write Your Comments Here:


img

पर्यावरण संरक्षण के लिए हुई प्रशंसनीय पहल

एक डॉक्यूमेण्ट्री ने बदल दी लोगों की आदतयूनाइटेड किंगडमवर्षों बाद लंदन की कई कॉलोनियों में पहले की तरह सुबह- सुबह दूध की डिलीवरी करने वाले दिखने लगे हैं। अब लोग प्लास्टिक की बोतलों में नहीं, काँच की बोतलों में दूध.....

img

डलास, अमेरिका में हुआ १०८ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ

वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए संघबद्ध आध्यात्मिक पुरुषार्थ का आह्वान १५ अप्रैल को हिन्दू मंदिर सोसाइटी, डलास में १०८ कुण्डीय महायज्ञ सम्पन्न हुआ। गायत्री परिवार के सदस्यों सहित डलास और आसपास के नगरों से आये सैकड़ों श्रद्धालुओं ने.....

img

पूर्वी अफ्रीका में शांतिकुंज की टोली का प्रवास

यूगांडा, तंजानिया और केन्या में १०८ कुण्डीय यज्ञ हुएशांतिकुंज प्रतिनिधि श्री शांतिलाल पटेल, श्री ओंकार पाटीदार एवं श्री बसंत यादव की टोली ८ मार्च से १६ अप्रैल तक यूगांडा, तंजानिया और केन्या के प्रवास पर थी। इस प्रवास में तीनों.....