१६ अगस्त को गायत्री शक्तिपीठ नागपुर पर क्षेत्र में मिशन की नींव रखने वाले वयोवृद्ध कीर्ति स्तंभों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर श्री गौरीशंकर बिसेन ने कार्यक्रम की प्रस्तावना प्रस्तुत करते हुए सम्मानित होने वाले महानुभावों की १९७६ में शक्तिपीठ के भूमिपूजन से लेकर १९९० में प्राण प्रतिष्ठा तक की गयी  सेवाओं का भावभरे अंतःकरण से स्मरण किया। 

कार्यक्रम का शुभारंभ श्री भुनेश्वर अग्रवाल-पूर्व प्राध्यापक प्राचीन मगध विवि. एवं श्री काकासाहेब सहस्र भोजनी-पूर्व निदेशक सूचना विभाग महाराष्ट्र सरकार द्वारा दीप प्रज्वलन से हुआ। 

श्री अग्रवाल जी ने सभी धर्मों की मार्मिक प्रेरणाओं का वर्णन करते हुए धर्म के सच्चे स्वरूप को समझाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि त्रिपदा गायत्री के प्रकाश में साधक अपनी आध्यात्मिक उन्नति को शिखर तक ले जा सकता है। 

श्री काका साहेब सहस्र भोजनी ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में तप और स्वाध्याय को जीवन के स्वस्थ विकास की प्रमुख आवश्यकता बताया और अखण्ड ज्योति के प्रभाव के कई मार्मिक संस्मरण सुनाए। 

श्री दीपक बिड़वई, श्री पाण्डे जी ने उपस्थित गणमान्यों के साथ मिशन की नींव माने जाने वाले लगभग ३० महानुभावों को शक्तिपीठ की ओर से स्मृति चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया। 


Write Your Comments Here:


img

anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री मंत्र और गायत्री माँ के चम्त्कार् के बारे मैं बताया

मैं यशवीन् मैंने आज राजस्थान के barmer के बालोतरा मैं anganwadi स्कूल मैं जाके गायत्री माँ के बारे मैं बच्चों को जागरूक किया और वेद माता के कुछ बातें बताई और महा मंत्र गायत्री का जाप कराया जिसे आने वाले.....

img

युग निर्माण हेतु भावी पीढ़ी में सुसंस्कारों की आवश्यकता जिसकी आधारशिला है भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा -शांतिकुंज प्रतिनिधि आ.रामयश तिवारी जी

वाराणसी व मऊ उपजोन की *संगोष्ठी गायत्री शक्तिपीठ,लंका,वाराणसी के पावन प्रांगण में संपन्न* हुई।जहां ज्ञान गंगा की गंगोत्री,*महाकाल का घोंसला,मानव गढ़ने की टकसाल एवं हम सभी के प्राण का केंद्र अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज,हरिद्वार* से पधारे युगऋषि के अग्रज.....

img

Yoga Day celebration

Yoga day celebration in Dharampur taluka district ValsadGaytri pariwar Dharampur.....