• कहा- ये विद्यार्थी जहाँ जायेंगे उस समाज का उत्कर्ष अवश्यंभावी है
शिक्षक दिवस
विद्यार्थियों के जीवन में भटकाव की उम्र के इस पड़ाव पर आप उन्हें जिस तरह से तराश रहे हैं, यह देखना मेरे लिए सुखद आश्चर्य है। यहाँ से उत्साह, आत्मविश्वास और नवसृजन की चाह लेकर ये विद्यार्थी जहाँ भी जायेंगे उस समाज का उत्थान सुनिश्चित है। 

शिक्षक दिवस के अवसर पर देव संस्कृति विश्वविद्यालय में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री जी. सेंथल पाण्डियन ने यह उद्गार व्यक्त किये। कुलाधिपति आदरणीय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी सहित समस्त शिक्षक, विद्यार्थी इस समारोह में उपस्थित थे। 
जिलाधिकारी महोदय को याद आ गये जन्म शताब्दी समारोह के अद्भुत दृश्य। करोड़ों की भीड़ में लोगों का अनुशासन, उनकी श्रमशीलता, श्रद्धा, समर्पण। जिलाधिकारी ने कहा कि समारोह के बाद गायत्री परिवार ने जिस तरह सभी क्षेत्रों की सफाई की, ऐसी जागरूकता बिरले ही देखने को मिलती है। 

मृत्युंजय सभागार में मनाये गया शिक्षक दिवस समारोह गुरु-शिष्य के संबंधों का आदर्श प्रस्तुत कर रहा था। विद्यार्थियों ने प्रज्ञागीत, योग प्रदर्शन, समूह नृत्य और नाटिका के माध्यम से गुरुजनों के प्रति अपने प्रेम की अभिव्यक्ति की। दत्तात्रेय पर नाटक मंचन से बताया कि सीखने की रुचि हो तो हर किसी से कुछ न कुछ सीखा जा सकता है। 

कुलाधिपति जी ने अपने सहयोगी शिक्षकों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की जो अपनी महत्त्वाकांक्षाओं को त्यागकर एक महान गुरु परम पूज्य गुरुदेव के सपनों को साकार करने के लिए एक टीम की तरह काम कर रहे हैं। विद्यार्थियों निष्ठा और सद्भावना का अभिनंदन करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे समर्पित राष्ट्रसेवियों से ही ‘विज़न २०२०’ साकार हो सकता है। 

शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में आदरणीय डॉ. प्रणव जी ने पुष्पगुच्छ, उपवस्त्र और युगसाहित्य भेंटकर जिलाधिकारी महोदय का सम्मान किया। प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय जी और कुलसचिव श्री संदीप जी ने विश्वविद्यालय परिवार की ओर से अपने कुलाधिपति जी का अभिनंदन किया। विद्यार्थियों ने अपने गुरुजनों का हृदय से सम्मान कर शिक्षक दिवस मनाया। 




Write Your Comments Here:


img

ऑनलाइन योग सप्ताह आयोजन द्वादश योग :गायत्री योग

परम पूज्य गुरुदेव द्वारा लिखित पुस्तक  गायत्री योग, जिसके अंतर्गत द्वादश योग की चर्चा की गई है, का ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पांच दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया| इस कार्यक्रम में विशेष आकर्षण वीडियो कांफ्रेंस.....

img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....