अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख व देवसंस्कृति विवि के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्याजी का ६५वाँ जन्मदिन प्रेरणा एवं चेतना के जागरण पर्व के रूप में मनाया गया। देश भर के गणमान्य नागरिकों से प्राप्त बधाई संदेशों के बीच पूर्व न्यायाधीश एवं उनके पिता श्री सत्यनारायण पण्ड्या ने मंगल तिलक कर शुभाशीष दिया। संस्था की अधिष्ठात्री शैल दीदी सहित शांतिकुंज के कार्यकर्ता भाई- बहिनों, देसंविवि परिवार एवं गायत्री विद्यापीठ के बच्चों ने गुलदस्ता भेंटकर स्वस्थ जीवन की मंगलकामना की। पौराणिक कथन के अनुसार एक वृक्ष को सौ पुत्रों के समान बताया गया है, इसी कथन को चरितार्थ करते हुए उन्होंने श्रीरामपुरम् में त्रिवेणी का रोपण किया। उल्लेखनीय है कि उन्हीं की प्रेरणा से गायत्री परिवार द्वारा देश भर में चलाये जा रहे वृक्षगंगा अभियान के तहत अब तक साठ लाख से अधिक वृक्षों का रोपण एवं पोषण किया जा चुका है।

इंदौर मेडिकल कॉलेज से एमडी (मेडीसिन) में स्वर्ण पदक प्राप्त डॉ. पण्ड्याजी ने आज से लगभग ४० वर्ष पहले संयुक्त राज्य अमेरिका से अपने चिकित्सा जीवन को आरंभ करने का सुनहरा मौका प्राप्त होने के बावजूद अपने गुरू पं० श्रीराम शर्मा आचार्य जी के आवाहन को प्राथमिकता देते हुए देश में रहकर ही अपने युवा जीवन को संस्कृति सेवा में समर्पित करने का संकल्प लिया। आज देश- विदेश में लाखों युवाओं का मार्गदर्शन, भारतीय संस्कृति का विश्वभर में प्रचार- प्रसार, देसंविवि के संचालन, अखण्ड ज्योति पत्रिका सहित आध्यात्मिक साहित्य लेखन- संपादन, विज्ञान और अध्यात्म का समन्वय में शोध कार्य जैसे अनेक विशिष्ट कार्य उनके इसी समर्पण की प्रत्यक्ष सिद्धियाँ हैं।

इस अवसर पर देवसंस्कृति विश्वविद्यालय परिवार ने अपने कुलाधिपति का जन्मदिवस मृत्युजंय सभागार में हर्षोल्लास के साथ मनाया। विश्वविद्यालय द्वारा इस दिवस को चेतना दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस मौके पर वरिष्ठ जनों ने जन्मदिवस की शुभकामनाएँ दीं। उन्होंने जीवन में सफलता प्राप्त करने एवं सभ्य, सुसंस्कृत व विकसित समाज हेतु विद्यार्थियों से एक- एक बुराई को छोड़ने एवं एक- एक अच्छाई ग्रहण करने की सलाह दी।

इससे पूर्व डॉ पण्ड्या ने हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया को २.५१ लाख का चैक भेंटकर सम्मानित किया। उन्होंने वंदना को उत्तराखंड का गौरव बताया। इस अवसर पर डॉ पण्ड्याजी के जीवन पर आधारित एक डाक्यूमेंट्री ‘प्रकाश पथ के यात्री’ को दिखाया।

शांतिकुंज में धन्वन्तरि जयंती उत्साहपूर्वक मनाई गयी |





Write Your Comments Here:


img

ऑनलाइन योग सप्ताह आयोजन द्वादश योग :गायत्री योग

परम पूज्य गुरुदेव द्वारा लिखित पुस्तक  गायत्री योग, जिसके अंतर्गत द्वादश योग की चर्चा की गई है, का ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पांच दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया| इस कार्यक्रम में विशेष आकर्षण वीडियो कांफ्रेंस.....

img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....