देसंविवि में राष्ट्रीय जूडो चैम्पियनशीप 18 दिसम्बर से

img

भारत सरकार के एक महात्वाकांक्षी योजना के अंतर्गत उत्तराखंड सरकार व हरिद्वार स्थित देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में राष्ट्रीय जूडो चैम्पियनशीप प्रतियोगिता १८ से २२ दिसम्बर को देसंविवि में होगी। इस प्रतियोगिता में देश के कई राज्यों के जूडो खिलाड़ी अपने शारीरिक व मानसिक क्षमता का परिचय देंगे।

आयोजन की व्यवस्था देख रहे देसंविवि के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या ने बताया कि डॉ कानो जिगोरो द्वारा १८८२ में जापान में बनाया गया एक आधुनिक जापानी मार्शल आर्ट और लड़ाकू खेल है। इसकी सबसे प्रमुख विशेषता इसका प्रतिस्पर्धी तत्व है, जिसका उद्देश्य अपने प्रतिद्वंद्वी को या तो जमीन पर पटकना, गतिहीन कर देना अथवा कुश्ती की चालों से अपने प्रतिद्वंद्वी को अपने वश में कर लेना, जोड़ों को उलझाकर अपने प्रतिद्वंद्वी को समर्पण करने के लिए मजबूर कर देना है। हाथ और पैर के प्रहार और वार के साथ- साथ हथियारों से बचाव करना जूडो का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड सरकार का खेल विभाग व देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्त्वावधान में यहाँ पहली बार जूडो का राष्ट्रीय चैम्पियनशीप हो रहा है। हम लोग उत्साहपूर्वक कार्यक्रम की प्रतीक्षा कर रहे हैं। इस प्रतियोगिता में जूडो के करीब साढ़े पाँच सौ प्रतिभागियों के आने की संभावना है, वहीं केन्द्र व राज्य के कई वरिष्ठ अधिकारी भी प्रतियोगिता के दौरान उपस्थित रहेंगे।

img

शांतिकुंज में मनाया जायेगा गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज का ३५० प्रकाशोसत्व

सभी सिक्ख भाई- बहिनों को भावभरा आमंत्रण

वर्ष २०१७- १८ में देशभर में सिक्ख मतावलम्बियों के दशम गुरु गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के ३५०वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में समारोह आयोजित हो रहे हैं। अखिल विश्व गायत्री परिवार भी २२ अगस्त.....

img

नव सृजन युवा संकल्प समारोह, नागपुर

नव सृजन युवा संकल्प समारोह, नागपुर दिनांक 26, 27, 28 जनवरी 2018
यौवन जीवन का वसंत है तो युवा देश का गौरव है। दुनिया का इतिहास इसी यौवन की कथा-गाथा है।  कवि ने कितना सत्य कहा है - दुनिया का इतिहास.....


Write Your Comments Here: