देवसंस्कृति विवि में होने वाले सीनियर राष्ट्रीय जुडो प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंचे अंतर्राष्ट्रीय जुडो खिलाड़ी सुशील लिकमबद, कल्पना थौडम व राजविन्दर कौर ने देसंविवि प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या से भेंट की। इन खिलाडियों ने अपने जीवन के अनुभवों को साझा किया तथा कामनवेल्थ गेम- २०१४ में पदक प्राप्त करने के लिए की गयी तैयारियों पर चर्चा की। जूडो के माध्यम से विवि के विद्याथियों में शारीरिक क्षमता व मानसिक दृढ़ता किस प्रकार विकसित हो, इस पर भी विचार विमर्श किया गया। इस अवसर पर डॉ चिन्मय पण्ड्या ने कहा कि यहाँ होने वाले कार्यक्रम से उत्तराखंड को जूडो के क्षेत्र में नई प्रतिभा मिलेगी। देसंविवि इसके लिए एक सुनहरा अवसर दे रहा है। 

इस दौरान देसंविवि के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या कामनवेल्थ गेम- २०१४ में रजत पदक व कांस्य पदक विजेता इन खिलाड़ियों को उपवस्त्र ओढ़ाकर सम्मानित किया। प्रतिकुलपति ने देवसंस्कृति विश्वविद्यालय की अवधारणा एवं विवि की मातृसंस्था शांतिकुंज द्वारा चलाये जा रहे युवा जागरण सहित विभिन्न रचनात्मक कार्यक्रमों की भी जानकारियां दीं। 



Write Your Comments Here:


img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

दे.स.वि.वि. के ज्ञानदीक्षा समारोह में भारत के 22 राज्य एवं चीन सहित 6 देशों के 523 नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

जीवन खुशी देने के लिए होना चाहिए ः डॉ. निशंकचेतनापरक विद्या की सदैव उपासना करनी चाहिए ः डॉ पण्ड्याहरिद्वार 21 जुलाई।जीवन विद्या के आलोक केन्द्र देवसंस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज के 35वें ज्ञानदीक्षा समारोह में नवप्रवेशार्थी समाज और राष्ट्र सेवा की ओर.....

img

देसंविवि की नियंता एनईटी (योग) में 100 परसेंटाइल के साथ देश भर में आयी अव्वल

देसंविवि का एक और कीर्तिमानहरिद्वार 19 जुलाईदेव संस्कृति विश्वविद्यालय ने एनईटी (नेशनल एलीजीबिलिटी टेस्ट -योग) के क्षेत्र में एक और कीर्तिमान स्थापित किया है। देसंविवि के योग विज्ञान की छात्रा नियंता जोशी ने एनईटी (योग)- 2019 की परीक्षा में 100.....