Published on 0000-00-00

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में फूलों की होली मनाई गयी। वहीं छात्र- छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से होली के मजा को चैगुना कर दिया। होली का मुख्य पर्व देसंविवि की मातृसंस्था गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में प्राकृतिक रंगों से मनाई गयी। वरिष्ठ कार्यकर्ताओं सहित देसंविवि के अभिभावक कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने विद्यार्थियों के संग रंग- बिरंगे फूलों के साथ होली खेली। विद्यार्थियों ने एक- दूसरे को गुलाल लगाते हुए गले मिले, आचार्यों को चंदन लगाकर उनसे आशीष लिया, तो वहीं कुलाधिपति ने सभी विद्यार्थियों को गुजिया बाँटकर वर्ष भर मिठाई की तरह मीठा आचार- विचार करने की प्रेरणा दी। आम्रकुंजों के बीच आयोजित होली मिलन समारोह के अवसर पर कुलपति शरद पारधी, प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या, कुलसचिव संदीप कुमार सहित सभी आचार्य गण उपस्थित थे।

वहीं गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्माजी की अगुवाई में आश्रम के अंतेःवासी एवं विभिन्न शिविरों में आये सैकड़ों साधकों ने नई केण्टीन, श्रीरामपुरम स्थित पार्क में होली मिलन का हर्षोल्लास के साथ आनंद लिया। सभी ने एक दूसरे को गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएँ दीं। हास- परिहास करते हुए लोगों ने होली का खूब आनंद उठाया। होली मिलन कार्यक्रम का संचालन श्री श्याम बिहारी दुबे ने किया।

इससे पूर्व संस्था प्रमुख शैलदीदी व डॉ. प्रणव पण्ड्याजी की मुख्य आतिथ्य में भव्य दीपमहायज्ञ का आयोजन हुआ। इस अवसर पर डॉ. पण्ड्याजी ने कहा कि होलिका दहन के साथ अपने एक बुराई का दहन कर जीवन के नवनिर्माण के लिए एक अच्छाई को अवश्य ग्रहण करें।


Write Your Comments Here:


img

झारखंड के हर जिले में रक्तदान शिविर आयोजित हुए

जगह- जगह एक ही दिन शिविर आयोजित हुएटाटानगर। झारखंडगायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ झारखंड की प्रांतीय इकाई ने ५ नवंबर को प्रत्येक जिले में रक्तदान शिविर आयोजित किये। पीड़ित मानवता की सेवा में किया गया यह प्रशंसनीय प्रयोग काफी सफल रहा।.....

img

बिहार बाढ़ राहत शिविर

बिहार बाढ़ राहत शिविर

जिला कटिहार गायत्री परिवार द्वारा ग्राम झौंआ में परिवार सर्वेक्षण कार्य के लिये तीन दल भेजे गये। दूसरे राहत शिविर में ग्राम मनिया में डा० आनन्दी केशव द्वारा अन्य दो डाक्टरों के सहयोग से चिकित्सा शिविर चलाया.....

img

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी भारतीय सेना विश्व की श्रेष्ठतम सेनाओं में से एक है जिसमें सीमित संसाधनों के द्वारा भी विजय प्राप्त करने की क्षमता विधमान है।देश की सेवा करने वाले इन बहादुर सैनिको को त्यौहारों के दिन भी.....