Published on 0000-00-00

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) विभाग लालढांग में विशेष कैम्प लगाया था। समयावधि पूरी होने के पश्चात आज १८० विद्यार्थियों का दल वापस देसंविवि पहुंचा। कैम्प के दौरान विद्यार्थी लालढांग के निकटवर्ती १२ गांवों में स्वच्छता अभियान, वृक्षारोपण, नारी शिक्षा, नशा निवारण के क्षेत्र में काम किया। वहीं विद्यार्थियों का एक दूसरा दल युवाओं के स्किल डेवलमेंट, स्वालंबन जैसे कई कार्यक्रमों में ग्रामीणों की रुचि जगाई। एक तीसरा दल किसानों को उन्नत फसल पैदा करने के विविध उपायों पर चर्चा की तथा उन्हें जैविक पद्धति को अपनाने की बात कही। छात्राओं की टोली ने स्थानीय महिलाओं को सुरक्षा, नर- नारी में भेद, बेटियों को भी आगे बढ़ाने जैसे विषयों पर नुक्कड नाटक के जरिये जागरुक किया। एनएसएस के समन्वयक डॉ अरुणेश पारासर के अनुसार सात दिवसीय कैम्प में १८० विद्यार्थियों ने भाग लिया था। इन्होंने कटैबल, ढालुपुरी, मुलापुरी सहित १२ गांवों में जागृति अभियान चलाया। कैम्प में कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या एवं प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या विद्यार्थियों के उत्साहवर्धन के लिए पहुंचे थे। दल वापस लौटने पर देसंविवि के अभिभावक डॉ प्रणव पण्ड्याजी से भेंट किया। इस अवसर पर कुलाधिपति ने कहा कि पढ़ाई के अलावा एनएसएस शिविर के माध्यम में निःस्वार्थ भाव से सेवा करना जीवन में आगे बढ़ने के लिए आवश्यक है। ग्रामीण क्षेत्र के विकास से ही राष्ट्र का विकास संभव है। कुलाधिपति ने विद्यार्थियों द्वारा नशा निवारण, स्वच्छता अभियान, नारी जागरण पर किये कार्यों की विशेष सराहना की। कार्यक्रम अधिकारी डॉ मानिका पाण्डेय, अंजलि भारद्वाज ने भी शिविर में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया।


Write Your Comments Here:


img

झारखंड के हर जिले में रक्तदान शिविर आयोजित हुए

जगह- जगह एक ही दिन शिविर आयोजित हुएटाटानगर। झारखंडगायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ झारखंड की प्रांतीय इकाई ने ५ नवंबर को प्रत्येक जिले में रक्तदान शिविर आयोजित किये। पीड़ित मानवता की सेवा में किया गया यह प्रशंसनीय प्रयोग काफी सफल रहा।.....

img

बिहार बाढ़ राहत शिविर

बिहार बाढ़ राहत शिविर

जिला कटिहार गायत्री परिवार द्वारा ग्राम झौंआ में परिवार सर्वेक्षण कार्य के लिये तीन दल भेजे गये। दूसरे राहत शिविर में ग्राम मनिया में डा० आनन्दी केशव द्वारा अन्य दो डाक्टरों के सहयोग से चिकित्सा शिविर चलाया.....

img

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी भारतीय सेना विश्व की श्रेष्ठतम सेनाओं में से एक है जिसमें सीमित संसाधनों के द्वारा भी विजय प्राप्त करने की क्षमता विधमान है।देश की सेवा करने वाले इन बहादुर सैनिको को त्यौहारों के दिन भी.....