प्रणव पड्याजी को भारत गौरव पुरस्कार

Published on 2015-07-30
img

अखिलविश्व गायत्री परिवार के प्रमुख एवं देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति प्रणव पण्ड्याजी को ब्रिटिश संसद ने वर्ष 2014-15 के लिए 'भारत गौरव' पुरस्कार से नवाजा है। 

शांतिकुंज की तरफ से यहां जारी एक बयान के अनुसार, पण्ड्या के प्रतिनिधि के रूप में ब्रह्मवर्चस शोध संस्थान के वैज्ञानिक डॉ. अमल कुमार दत्ता ने इंग्लैंड की संसद के विशेष सभागार में भारत के राजदूत एवं अन्य गणमान्य की उपस्थिति में यह पुरस्कार प्राप्त किया। 

बयान के अनुसार, हरिद्वार पहुंचने पर दत्ता ने कहा कि यह मेरे जीवन का गौरव पूर्ण दिन था। ब्रिटेन की संसद द्वारा प्रणव पण्ड्याजी  को सम्मानित किया गया। 

पुरस्कार के तहत दो लाख रुपये तथा एक मानपत्र प्रदान किया जाता है। 

बयान के अनुसार, डॉ. पण्ड्याजी  ने कहा कि यह सम्मान मेरा नहीं, किन्तु गुरुसत्ता एवं लाखों गायत्री साधकों, स्वयंसेवी कार्यकत्ताओं और देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों का सम्मान है। 


Write Your Comments Here:


img

पर्यावरण संरक्षण के लिए हुई प्रशंसनीय पहल

एक डॉक्यूमेण्ट्री ने बदल दी लोगों की आदतयूनाइटेड किंगडमवर्षों बाद लंदन की कई कॉलोनियों में पहले की तरह सुबह- सुबह दूध की डिलीवरी करने वाले दिखने लगे हैं। अब लोग प्लास्टिक की बोतलों में नहीं, काँच की बोतलों में दूध.....

img

डलास, अमेरिका में हुआ १०८ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ

वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए संघबद्ध आध्यात्मिक पुरुषार्थ का आह्वान १५ अप्रैल को हिन्दू मंदिर सोसाइटी, डलास में १०८ कुण्डीय महायज्ञ सम्पन्न हुआ। गायत्री परिवार के सदस्यों सहित डलास और आसपास के नगरों से आये सैकड़ों श्रद्धालुओं ने.....

img

पूर्वी अफ्रीका में शांतिकुंज की टोली का प्रवास

यूगांडा, तंजानिया और केन्या में १०८ कुण्डीय यज्ञ हुएशांतिकुंज प्रतिनिधि श्री शांतिलाल पटेल, श्री ओंकार पाटीदार एवं श्री बसंत यादव की टोली ८ मार्च से १६ अप्रैल तक यूगांडा, तंजानिया और केन्या के प्रवास पर थी। इस प्रवास में तीनों.....