Published on 2015-08-05
img

देवसंस्कृति विवि एवं अमेरिका की यूनिवर्सिटी आफ टेक्सास के बीच एमओयू हुआ। इस समझौते तहत विद्यार्थियों व शिक्षकों के बीच राइटिंग वटीचिंग प्रोजेक्ट को लेकर कार्य किये जायेंगे। गौरतलब है कि विश्व भर में राइटिंग प्रोजेक्ट को लेकर यह संस्था कई वर्षों से कार्यरत है।

इस आशय को लेकर देसंविवि के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्या एवं टेक्सास युनिवसिटी के डीन डॉ मर्चेंट ने एमओयू में हस्ताक्षर किये। डॉचिन्मय के अनुसार विद्यार्थियों एवं शिक्षकों को लेकर देसंविवि बहुत संजीदा है, इसीलिए एमओयू साइन होने के साथ ही अमेरिका का एक दल हरिद्वारपहुंच गया। समझौते के प्रथम चरण में देवसंस्कृति विवि के शोधार्थी छात्र एवं शिक्षक का प्रशिक्षण का क्रम प्रारंभ हो गया है। इस प्रशिक्षण के दौरानशोधार्थियों एवं शिक्षकों में पढ़ने पढ़ाने के एक विशेष शैली का प्रयोग कर रहे हैं।

इस तरह प्रशिक्षण क्रम टेक्सास यूनिवर्सिटी के माध्यम से भारत में पहली बार हो रहा है। इससे विवि परिवार में एक उत्साह का माहौल है।अमेरिकी दल में डॉ हेनकिन, डॉ पॉर्टर, डॉ मेरी लु आदि प्रमुख हैं, जो देसंविवि में प्रशिक्षण दे रहे हैं।


Write Your Comments Here:


img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

प्राणियों, वनस्पतियों व पारिस्थितिक तंत्र के अधिकारों की रक्षा हेतु गायत्री परिवार से विनम्र आव्हान/अनुरोध

हम विश्वास दिलाते हैं की जीव, जगत, वनस्पति व पारिस्थितिकी तंत्र के व्यापक हित में उसके अधिकार को वापस दिलवाना ही हमारा एकमात्र उद्देश्य और मिशन है| जलवायु संकट की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए तथा जीव-जगत को.....

img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....