Published on 2015-08-15

मध्यप्रदेश शासन द्वारा अखिल विश्व गायत्री परिवार, वेद माता गायत्री ट्रस्ट , शांतिकुंज हरिद्वार को स्वाधीनता संग्राम के आदर्शों का अनुसरण करते हुए आध्यात्मिक जाग्रति के माध्यम से लोक कल्याण का मार्ग प्रशस्त करने और भारत के सांस्कृतिक मूल्यों की पुनर्स्थापना के साथ राष्ट्र निर्माण में अतुलनीय योगदान के लिए अमर शहीद चंद्रशेखर आज़ाद राष्ट्रीय सम्मान २०१३-१४ से सादर विभूषित किया गया । इस सम्मान को शांतिकुंज के वरिष्ठ प्रतिनिधि एवं प्रबंधक आदरणीय गौरीशंकर शर्मा जी ने ग्रहण किया । 

इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे ।  माननीय मुख्यमंत्री ने अपने उद्बोधन में गायत्री परिवार का उल्लेख करते हुए कहा कि परम पूज्य गुरुदेव ने जो वैचारिक क्रांति का अभियान शुरू किया है वह अद्भुत एवं आज की आवश्यकता है । परम पूज्य गुरुदेव ने एक ऐसा अधिष्ठान शांतिकुंज से प्रारम्भ किया जिसने इस राष्ट्र निर्माण और समाज निर्माण के लिए लाखों बलिदानी कार्यकर्ता तैयार कर दिए है जो देश को श्रेष्ठता की और ले जायेगे । 

इस अवसर पर आदरणीय गौरीशंकर जी ने कहा कि आज १५ अगस्त के दिन हमने आज़ादी पायी थी और जिन शहीदों के बलबूते हमने जो आज़ादी पायी है उन शहीदों की जयकार करके हम न रह जाएँ । शहीदों ने जिन मूल्यों को धारण कर हमें आज़ादी दिलाई और अपनी सभ्यता और संस्कृति को बचाने का प्रयास किया आज हमें उन मूल्यों को फिर से ज़िंदा करना है , वह मूल्य तब ज़िंदा होंगे जब हम उस रास्ते पर चलेंगे । आज के पवित्र दिन हमें यह संकल्प लेना चाहिए कि हम श्रेष्ठ कार्यों की तरफ बढ़ेंगे , घर के अंदर बच्चों को श्रेष्ठ बनाएंगे, परिवार को श्रेष्ठ बनाएंगे , समाज को श्रेष्ठ बनाएंगे , बुराइयों से दूर रखेंगे और बुराइयों के प्रति हमारा संघर्ष जारी रहेगा, तभी इन शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि समर्पित होगी । उन्होंने कहा कि यह सम्मान जो आज मिला है वह परम पूज्य गुरुदेव और परम वंदनीय माता जी को मिला है , गायत्री परिवार के लाखों कार्यकर्ताओं को मिला है , में तो एक निमित्त मात्र हूँ ।
 इस अवसर पर रेडियो आज़ाद के एंकर से बात करते हुए गौरीशंकर जी ने गायत्री परिवार द्वारा चलाये जा रहे है सप्त आंदोलनों की जानकारी दी । तरु पुत्र - तरु मित्र योजना का उल्लेख करते हुए आदरणीय गौरीशंकर जी ने कहा कि इस के माध्यम से हम धरती को हरी चूनर पहनने का क्रम संपन्न कर रहे है और अब तक गायत्री परिवार १ करोड़ से अधिक पौधे रोपित कर चुका है ।  

इस अवसर पर गायत्री परिवार भोपाल के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित रहे ।


Write Your Comments Here:


img

झारखंड के हर जिले में रक्तदान शिविर आयोजित हुए

जगह- जगह एक ही दिन शिविर आयोजित हुएटाटानगर। झारखंडगायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ झारखंड की प्रांतीय इकाई ने ५ नवंबर को प्रत्येक जिले में रक्तदान शिविर आयोजित किये। पीड़ित मानवता की सेवा में किया गया यह प्रशंसनीय प्रयोग काफी सफल रहा।.....

img

बिहार बाढ़ राहत शिविर

बिहार बाढ़ राहत शिविर

जिला कटिहार गायत्री परिवार द्वारा ग्राम झौंआ में परिवार सर्वेक्षण कार्य के लिये तीन दल भेजे गये। दूसरे राहत शिविर में ग्राम मनिया में डा० आनन्दी केशव द्वारा अन्य दो डाक्टरों के सहयोग से चिकित्सा शिविर चलाया.....

img

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी

बहनों ने सैनिकों को राखी बाँधी भारतीय सेना विश्व की श्रेष्ठतम सेनाओं में से एक है जिसमें सीमित संसाधनों के द्वारा भी विजय प्राप्त करने की क्षमता विधमान है।देश की सेवा करने वाले इन बहादुर सैनिको को त्यौहारों के दिन भी.....


Warning: Unknown: write failed: No space left on device (28) in Unknown on line 0

Warning: Unknown: Failed to write session data (files). Please verify that the current setting of session.save_path is correct (/var/lib/php/sessions) in Unknown on line 0