दल में शांतिकुंज के विभिन्न विभागों में कार्यरत 60 कार्यकर्ता शामिल

हरिद्वार, 13 मई।
    भारत के 54 छोटी-बड़ी नदियों को निर्मल बनाने के अभियान में जुटे शांतिकुंज के अंतेवासी कार्यकर्ता का दल नेपाल की गंगा माने जाने वाली बाग्मति नदी की स्वच्छता अभियान के लिए आज रवाना हुआ। दल में कुल 60 सदस्य हैं, जो शांतिकुंज के विभिन्न विभागों में कार्यरत हैं। ये कार्यकर्त्ता आपदा प्रबंधन से प्रशिक्षित हैं और लम्बे अनुभव रखते हैं। दल अपने साथ खाने-पीने का सामान भी लेकर गया।
    दल को रवाना होने से पूर्व आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए अभिभावक डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि यह बाग्मति निर्मल अभियान दोनों देशों के संबंध को और प्रगाढ़ बनाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायेगा। अखिल गायत्री परिवार भारत के गंगा, कोसी, ताप्ती सहित 54 छोटी-बड़ी नदियों को निर्मल बनाने के इस अभियान में पिछले कई सालों से  जुटा हुआ है। अब तक गायत्री परिवार को इसमें बहुत अच्छी सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि नदियों के तटीय स्थानों को हरी चुनर चढ़ाने का काम भी तेजी से चल रहा है, इसके लिए स्थानीय नागरिकों में जन जागरण कर इस दिशा में सार्थक पहल करने को प्रोत्साहित किया जा रहा है। अब तक दो दर्जन से अधिक विलुप्त हो रही नदियों को पुनर्जागृत किया जा चुका है।
    संस्था की अधिष्ठात्री शैल दीदी ने स्वच्छता अभियान में आने वाले समस्याओं के निदान के सूत्र समझाये। वहीं व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्मा ने कहा कि गायत्री परिवार के जनक पं० श्रीराम शर्मा जी द्वारा बताये सूत्र पीड़ा व पतन निवारण के प्रति जाग्रत कर उन्हें ऊँचा उठाना है। इस दिशा में युवा वर्ग को विशेष प्रशिक्षण दिये जायेंगे।
    60 सदस्यीय दल के दलनायक श्री केदार प्रसाद दुबे ने बताया कि भगवान पशुपतिनाथ के निकट बहने वाली बाग्मति नदी के करीब पाँच किमी तक के तटीय स्थानों में स्वच्छता अभियान चलाया जायेगा। अभियान में नेपाल प्रशासन भी पूरा-पूरा सहयोग दे रहा है। उन्होंने बताया कि इस स्वच्छता अभियान में मप्र, उप्र, बिहार, झारखण्ड के करीब 600 स्वयंसेवक भी शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि अभियान के अंतर्गत नेपाल के करीब पाँच सौ युवाओं के बीच आपदा प्रशिक्षण शिविर चलाया जायेगा। इस अभियान में घनश्याम देवांगन, सीताराम सिन्हा, जयराम, आशीष, मंगल गढ़वाल, रजनीश गौड़ आदि प्रमुख हैं।

http://news.awgp.org/admin/var/news/196/guru%20%281%29.jpg" height="249" width="385">


Write Your Comments Here:


img

समाज को सकारात्मकता एवं सृजनात्मक उत्कृष्टता की ओर प्रेरित करते कार्यक्रम

पीड़ित युवतियों के उत्थान के प्रयासरेस्क्यू फाउण्डेशन में जाकर मनाया जन्मदिवसबोरीवली, मुंबई। महाराष्ट्ररेस्क्यू फाउंडेशन देह व्यापार से छुड़ाई गई युवा लड़कियों के पुनर्वास के लिए काम करने वाली स्वयंसेवी संस्था है, जो पूरे महाराष्ट्र में सक्रिय है। दिया, मुम्बई के.....

img

1126 जोड़ों का सामूहिक विवाह संस्कार

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश श्रम विभाग प्रयाजराज की ओर से दिनांक 13 मार्च को सामूहिक विवाह का विशाल समारोह आयोजित किया गया। माघ मेला, परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस संस्कार समारोह में 1126 जोड़ों ने और 18 मुस्लिम जोड़ों ने गृहस्थ.....

img

छत्तीसगढ़ में नारी सशक्तीकरण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण

‘विजन 2026’ के साथ हो रहे हैं कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के प्रान्तीय संगठन द्वारा ‘विजन-2026’ को लेकर 11 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक बहिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। यह प्रशिक्षण परम वंदनीया माताजी की जन्मशताब्दी वर्ष.....