Published on 2015-12-09
img

दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर होने वाले मुख्य परेड में उत्तराखंड के चार विद्यार्थियों का चयन हुआ है। इनमें से देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के प्रज्ञा राजपूत, विवेक कुमार, अंशुल कुमार व कुमायूं विवि की एक छात्रा हैं। अब तक का यह पहला मौका है कि मुख्य परेड में देसंविवि के तीन विद्यार्थी एक साथ हिस्सा लेंगे। इससे पहले की संख्या एक या दो ही हुआ करती थी। एनएसएस के ये विद्यार्थी २६ जनवरी को दिल्ली मे होने वाले परेड में प्रतिभाग करेंगे। इससे पूर्व ये तीनों छात्र-छात्राएँ रांची (झारखण्ड) में प्री-आर.डी प्रतिस्पर्धा में उत्तराखण्ड की ओर से अव्वल प्रतिभागी रहे हैं। इस दौरान इनके परेड एवं सांस्कृतिक समन्वय को बहुत सराहा गया।


मुख्य परेड हेतु चयनित होने पर देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. प्रणवजी ने इन्हें ऐतिहासिक गौरव की बात कही। कहा कि गढ़वाल मंडल से चार विद्यार्थियों में से तीन विद्यार्थी देसंविवि का होना हर्ष का विषय है। मुझे विश्वास है कि देसंविवि के विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के साथ-साथ देवभूमि उत्तराखण्ड का नाम भी रोशन करेंगे। कुलपति श्री शरद पारधी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार सहित विवि परिवार ने तीनों विद्यार्थियों को बधाई दी।


देसंविवि के एनएसएस समन्वयक डॉ० अरूणेश पाराशर के अनुसार एनएसएस के लिए यह एक उपलब्धि है, जिसमें गढ़वाल मण्डल से चार छात्र-छात्राओं का चयन किया गया। समन्वयक डॉ पाराशर ने बताया कि ये विद्यार्थी अब १ से २५ जनवरी तक दिल्ली के परेड कैम्प में रहकर परेड संबंधी तैयारी करेंगे तथा २६ जनवरी को मुख्य परेड में उत्तराखण्ड का प्रतिनिधित्व करेंगे।


Write Your Comments Here:


img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....