Published on 2015-12-09
img

दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर होने वाले मुख्य परेड में उत्तराखंड के चार विद्यार्थियों का चयन हुआ है। इनमें से देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के प्रज्ञा राजपूत, विवेक कुमार, अंशुल कुमार व कुमायूं विवि की एक छात्रा हैं। अब तक का यह पहला मौका है कि मुख्य परेड में देसंविवि के तीन विद्यार्थी एक साथ हिस्सा लेंगे। इससे पहले की संख्या एक या दो ही हुआ करती थी। एनएसएस के ये विद्यार्थी २६ जनवरी को दिल्ली मे होने वाले परेड में प्रतिभाग करेंगे। इससे पूर्व ये तीनों छात्र-छात्राएँ रांची (झारखण्ड) में प्री-आर.डी प्रतिस्पर्धा में उत्तराखण्ड की ओर से अव्वल प्रतिभागी रहे हैं। इस दौरान इनके परेड एवं सांस्कृतिक समन्वय को बहुत सराहा गया।


मुख्य परेड हेतु चयनित होने पर देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ. प्रणवजी ने इन्हें ऐतिहासिक गौरव की बात कही। कहा कि गढ़वाल मंडल से चार विद्यार्थियों में से तीन विद्यार्थी देसंविवि का होना हर्ष का विषय है। मुझे विश्वास है कि देसंविवि के विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के साथ-साथ देवभूमि उत्तराखण्ड का नाम भी रोशन करेंगे। कुलपति श्री शरद पारधी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार सहित विवि परिवार ने तीनों विद्यार्थियों को बधाई दी।


देसंविवि के एनएसएस समन्वयक डॉ० अरूणेश पाराशर के अनुसार एनएसएस के लिए यह एक उपलब्धि है, जिसमें गढ़वाल मण्डल से चार छात्र-छात्राओं का चयन किया गया। समन्वयक डॉ पाराशर ने बताया कि ये विद्यार्थी अब १ से २५ जनवरी तक दिल्ली के परेड कैम्प में रहकर परेड संबंधी तैयारी करेंगे तथा २६ जनवरी को मुख्य परेड में उत्तराखण्ड का प्रतिनिधित्व करेंगे।


Write Your Comments Here:


img

समाज को सकारात्मकता एवं सृजनात्मक उत्कृष्टता की ओर प्रेरित करते कार्यक्रम

पीड़ित युवतियों के उत्थान के प्रयासरेस्क्यू फाउण्डेशन में जाकर मनाया जन्मदिवसबोरीवली, मुंबई। महाराष्ट्ररेस्क्यू फाउंडेशन देह व्यापार से छुड़ाई गई युवा लड़कियों के पुनर्वास के लिए काम करने वाली स्वयंसेवी संस्था है, जो पूरे महाराष्ट्र में सक्रिय है। दिया, मुम्बई के.....

img

1126 जोड़ों का सामूहिक विवाह संस्कार

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश श्रम विभाग प्रयाजराज की ओर से दिनांक 13 मार्च को सामूहिक विवाह का विशाल समारोह आयोजित किया गया। माघ मेला, परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस संस्कार समारोह में 1126 जोड़ों ने और 18 मुस्लिम जोड़ों ने गृहस्थ.....

img

छत्तीसगढ़ में नारी सशक्तीकरण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण

‘विजन 2026’ के साथ हो रहे हैं कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के प्रान्तीय संगठन द्वारा ‘विजन-2026’ को लेकर 11 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक बहिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। यह प्रशिक्षण परम वंदनीया माताजी की जन्मशताब्दी वर्ष.....