Published on 2016-01-30

देव संस्कृति विश्वविद्यालय की प्रज्ञा सिंग एम.ए. योग विज्ञान, विभा कश्यप पत्रकारिता एवं संचार में स्नातकोत्तर,अदिति शर्मा एम.एस.सी. कम्प्यूटर सांईस एवं नंदिनी त्यागी एम.ए. संस्कृत देवकन्याओं की टोली द्वारा उपजेल मुलताई में बंदियों को नैतिक शिक्षा,आहार-विहार, आचार-विचार, एवं स्वस्थ रहने के लिए प्रतिदिन योग, व्यायाम, प्राणायाम,एक्यूप्रेशर एवं तनाव मुक्त रहने के लिए सूक्ष्म यौगिक क्रिया करने एवं प्रेरणाप्रद विचारों से बंदियों में एक बेहतर भविष्य की उमंग जगाई।

सभी बंदियों ने नियमित योग करने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर जेल अधीक्षक श्री ऐश्वर्य मिश्रा जी ने कहा कि गायत्री परिवार के सदस्यों ने बंदियों के सुधार के लिए जो विभिन्न रचनात्मक एवं सुधारात्मक कार्यक्रम संचालित करते हैं, यह गौरव की बात है, गायत्री परिवार द्वारा मानव जीवन की गरिमा के सूत्र बताए व उन्हें आचरण में उतारने का संकल्प सभी बंदियों को दिलाकर उनके उज्जवल भविष्य की प्रार्थना की मै गायत्री परिवार का आभार व्यक्त करता हूँ ।

अन्त में गायत्री परिवार मुलताई द्वारा सभी बंदियों को पूज्य गुरुदेव द्वारा रचित सद्साहित्य भेट स्वरूप दी गई।


Write Your Comments Here: