Published on 2016-04-01

हरिद्वार, 1 अप्रैल (आईएएनएस)। गायत्री तीर्थ शांतिकुंज के जैमिनी हॉल में इसरो (अहमदाबाद) के वैज्ञानिकों ने ई-सेटेलाइट पर जन जागरण के लिए एक विज्ञान प्रदर्शनी लगाई।

प्रदर्शनी में कुल 30 पैनल हैं। इन पैनलों के माध्यम से चंद्रयान-1, मंगलयान एवं आरआईएसएटी, पीएसएलयू, डीएटी (डिजास्टर एलर्ट ट्रांसमीटर-जीपीएस सिस्टम) जैसे वैज्ञानिक उपक्रमों के विषय में युवाओं एवं जनमानस को जागरूक किया जा रहा है। यह प्रदर्शनी शनिवार शाम चार बजे तक रहेगी।

प्रदर्शनी के विषय पर चर्चा करते हुए अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि उपग्रहों के क्षेत्र में भारतीय वैज्ञानिकों ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। सेटेलाइट के माध्यम से बैंकिंग, ई-गवर्निग जैसे अनेक कार्य सहजता से होने के पीछे हमारे वैज्ञानिकों की कड़ी मेहनत है।

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में सेटेलाइट का उपयोग युवाओं को सही दिशा देने में भी होगा।

प्रदर्शनी में ऐसे उपकरण लगाए गए हैं, जो मंगलयान-1 में मार्क्‍स कलर कैमरा, थर्मल एफ्रेड इमेजिंग स्पेक्ट्रोमीटर, मिथेन सेंसर मार्स, डिजास्टर एलर्ट ट्रांसमीटर के क्वालीफाई मॉडल हैं। साथ ही चंद्रयान में भेजे गए उपग्रह के भी कई क्वालीफाई मॉडल हैं। इसके अलावा पृथ्वी के साथ परिक्रमा कर रहे तीन उपग्रहों की ज्वंलत प्रदर्शनी लगी है।

प्रदर्शनी टीम के साथ अभियंता शैलेश चौहान, दीपक पण्ड्या, जिग्नेश रावल, हिरेन विडवा व देवांग रावल हैं, जिन्होंने दर्शनार्थी विद्यार्थियों, युवाओं एवं जन सामान्य को बड़े ही मार्मिक ढंग से समझाया कि सेटेलाइट इन दिनों मानव के लिए आवश्यक आवश्यकताओं में से एक है। इनके माध्यम से फोन, बैकिंग, ई-शॉपिंग आदि कई कार्य सुगमता से हो रहा है।

डॉ. पण्ड्याजी ने बताया कि इसरो के वैज्ञानिकों ने टेली-एजुकेशन एवं टेली-मेडीसिन के क्षेत्र में महžवपूर्ण कदम उठाया है। निकट भविष्य में देश के हर वर्ग के व्यक्ति इसका लाभ ले सकेगा।

उन्होंने बताया कि शांतिकुंज में लगी यह उपग्रह प्रदर्शनी शनिवार शाम चार बजे तक रहेगी। इसमें नि:शुल्क प्रवेश की व्यवस्था है।


इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।





Write Your Comments Here:


img

गृह मंत्री अमित शाह बोले- वर्तमान एजुकेशन सिस्टम हमें बौद्धिक विकास दे सकता है, पर आध्यात्मिक शांति नहीं दे सकता

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम उन गतिविधियों का समर्थन करते हैं जो हमारे देश की संस्कृति और सनातन धर्म को प्रोत्साहित करती हैं। पिछले 50 वर्षों की अवधि में, हम हम सुधारेंगे तो युग बदलेगा वाक्य.....

img

शान्तिकुञ्ज में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया

प्रसिद्ध आध्यात्मिक संस्थान गायत्री तीर्थ शांतिकुंज, देव संस्कृति विश्वविद्यालय एवं गायत्री विद्यापीठ में 75वाँ स्वतंत्रता दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। शांतिकुंज में गायत्री परिवार प्रमुख एवं  देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति  श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या जी तथा संस्था की अधिष्ठात्री.....