Published on 2016-07-29

समाज के लोगों को दिशा देने और उनमें रचनात्मकता लाने की दिशा में अखिल विश्व गायत्री परिवार निरंतर सक्रिय है। इस हेतु गायत्रीतीर्थ शांतिकुंज व इसकी देश- विदेश में फैले हजारों शाखाओं द्वारा समय- समय पर छोटे- बड़े आयोजन होते हैं। इसी शृंखला के अंतर्गत पांच दिवसीय भविष्य निर्माता प्रशिक्षक प्रशिक्षण- सत्र का आज समापन हुआ। इस सत्र में झारखण्ड के २४ जिलों से आये चार सौ से अधिक लोगों ने भाग लिया।

शिविर के समापन अवसर पर समाज निर्माण में गायत्री परिवार की भूमिका का उल्लेख करते हुए शांतिकुंज के व्यवस्थापक श्री गौरीशंकर शर्माजी ने कहा कि समाज और देश को आगे बढ़ाने और ऊँचा उठाने के लिए जन मानस को रचनात्मकता की ओर मोड़ना जरूरी है। जब तक देश या समाज में रचनात्मकता नहीं होगी तब तक वह आगे नहीं बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि हम सबका यह प्रयास होना चाहिए कि हम अपने आस- पास के लोगों को सृजन की दिशा में बढ़ने की प्रेरणा दें और मदद भी करें।

उन्होंने धर्म और आस्तिकता के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि आज समाज में सबसे बड़ी कमी आस्तिकता की है। यह कमी आज केवल धर्म के क्षेत्र ही नहीं बल्कि सामाजिक और व्यक्तिगत जीवन तक को प्रभावित कर रही है। मनुष्य अपने अस्तित्व की आस्था को ही खोता जा रहा है। इस अनास्थावादी दृष्टिकोण को बदलना होगा। उन्होंने कहा कि सच्चे आस्तिक ही समाज सेवा कर सकते हैं और सच्चे त्यागी ही सृजन की दिशा में समाज को उल्लेखनीय उपलब्धियाँ दे सकते हैं।

इससे पूर्व डॉ. अमल कुमार दत्ता ने अध्यात्म की व्यवहारिकता पर प्रकाश डाला। समापन सत्र का संचालन केदार प्रसाद दुबे ने करते हुए आगन्तुक शिविरार्थियों का आभार व्यक्त किया। पाँच दिन चले इस प्रशिक्षण शिविर को प्रज्ञा अभियान के संपादक श्री वीरेश्वर उपाध्याय, जोनल समन्वयक श्री कालीचरण शर्मा, डॉ. गायत्री शर्मा, डॉ. वृजमोहन गौड़, श्यामबिहारी दुबे, देसंविवि के कुलसचिव श्री संदीप कुमार आदि विषय विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को विभिन्न विषयों पर विस्तार से जानकारी दी।




Write Your Comments Here:


img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

संस्कारित युवा पीढ़ी के निर्माण से होगा राष्ट्र निर्माण: नीलिमा

अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में स्थानीय रामकृष्ण आश्रम परिसर में जिला युवा प्रकोष्ठ द्वारा 5 दिवसीय युवा व्यक्तित्व निर्माण शिविर का आयोजन किया गया है | जहाँ शिविरार्थी योग, आसान, ध्यान  समेत आध्यात्मिक और बौद्धिक ज्ञान प्राप्त कर.....

img

नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में गायत्री परिवार का प्रतिनिधित्व

Nepal 8/8/17:-अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष्य में नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में भारत देश की तरफ से अखिल विश्व गायत्री परिवार के (DIYA TEAM)  के सदस्य श्री पी डी सारस्वत व श्री अनुज कुमार वर्मा सम्मेलन में.....