Published on 2016-11-30

27 नवम्बर २०१६ : पटना (बिहार) नौजवानो उठो, वक्त यह कह रहा, खुद को बदलो जमाना बदल जाएगा…। स्वयं के परिवर्तन से ही राष्ट्र का परिवर्तन संभव है। अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रज्ञा युवा प्रकोष्ठ द्वारा कंकड़बाग के रेनबो मैदान में आयोजित यूथ एक्सपो में रविवार को काफी संख्या में जुटे युवाओं ने यही संकल्प दोहराया। एक्सपो का उद‌्घाटन राज्यपाल रामनाथकोविंद ने किया और कहा कि भारत पूर्ण युवा राष्ट्र है। यहां की 60 फीसदी से अधिक आबादी युवाओं की है। युवाओं ने राष्ट्र निर्माण की जिम्मेदारी अपने कंधों पर उठा ली है। इसका सकारात्मक असर आने वाले दिनों में दिखेगा। राज्यपाल ने युवाओं से अपील की कि वे स्वस्थ बनें, बलवान बने और चरित्रवान बने। हर युवा अपने आप पर अटूट विश्वास रखे। पूरी क्षमता से काम करें, ताकि जीवन के हर क्षेत्र में सफल हों। आज ऐसी शिक्षा की जरूरत है, जो चरित्र निर्माण स्व निर्भरता पर केंद्रित हो। 

नोटबंदीका असर सकारात्मक, कश्मीर में फिर से लहराएगा तिरंगा 

अखिलविश्व गायत्री परिवार के प्रमुख डाॅ. प्रणव पाण्ड्या जी ने देश में नोटबंदी और बिहार में शराबबंदी का समर्थन किया। कहा कि नोटबंदी से रातोंरात क्रांति हो गई है। आने वाले दिनों में इसका व्यापक असर होने वाला है। सीमा पार से आतंकियों का आना बंद हो गया है। जल्द ही कश्मीर में फिर से हर जगह तिरंगा लहराएगा। पाकिस्तान की हालत बहुत खराब है। जो स्थिति है 10 सालों के अंदर वहां के लोगों की भारत में वापसी होने लगेगी। जो भी भारत आना चाहेंगे, उनका स्वागत है, पर उन्हें भारत माता की जय वंदे मातरम बोलना होगा। बिहार में शराबबंदी के लिए नीतीश कुमार को बधाई दी और देश भर में शराबबंदी के साथ संपूर्ण नशाबंदी की वकालत किया। उन्होंने युवाओं को वैज्ञानिक अध्यात्मवाद के माध्यम से समाज की रक्षा का संकल्प दिलाया। धर्म अध्यात्म में अंतर समझाया। कहा धर्म के कई रूप हैं, जबकि अध्यात्म जीवन जीने की कला सिखाता है। लेकिन, असली धर्म राष्ट्र रक्षा है, जिसे हमारे सैनिक पूरे जज्बे के साथ निभा रहे हैं। 

प्रज्ञायुवा प्रकोष्ठ के मनीष कुमार ने कहा कि बिहार सोया हुआ शेर है, जिस दिन जग गया राज्य देश की दशा बदल जाएगी। इतिहास गवाह है कि हर बड़े परिवर्तन की शुरुआत बिहार से हुई है। युग परिवर्तन की शुरुआत में भी बिहार की अहम भूमिका होगी। युवाओं को सृजन का काम करना है। कुछ अच्छा करके दिखाना है। युग परिवर्तन शुरू हो चुका है। 

गायत्री परिवार द्वारा संचालित बाल संस्कारशाला के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के जरिए बिहार की गरिमा- गौरव को दर्शाया। गीत नृत्य के जरिए बच्चों ने बिहार की लोक परंपरा को जीवंत कर दिया और व्यसन मुक्ति का संदेश भी दिया। 



Write Your Comments Here:


img

Gayatri jayati puri dhum dhum se manai gai

Chhotaipatti sadar darbhanga me 2 june huai 33 sthano per grihe grihe gayatri yag ki purna huti ke rup me 12 june ko gayatri jayanti bare hi utsah purwak manai gai.....

img

गायत्री जयंती पर्व

कांकेरझुनियापारा के गायत्री मंदिर में पांच कुण्डीय गायत्री महायज्ञ का समापनPublish Date:Thu, 13 Jun 2019 08:23 AM (IST)शहर के ज्ञानी ढाबा के पास झुनियापारा के नव निर्मित गायत्री मंदिर के प्रागंण में दो दिवसीय पांच कुण्डीय गायत्री महायज्ञ व प्रज्ञा.....