राष्ट्रीय जम्बूरी में शांतिकुंज के प्रज्ञा बैण्ड को मिला दूसरा स्थान

Published on 2017-01-11
img

शांतिकुंज पहुंचने पर डॉ. पण्ड्याजी ने दी बधाई

हरिद्वार ११ जनवरी।
मैसूर, कर्नाटक में सम्पन्न हुए १७वीं राष्ट्रीय जम्बूरी से शांतिकुंज की टीम आज लौट आयी। युग निर्माण स्काउट गाइड जनपद शांतिकुंज के प्रज्ञा बैंड ने उत्तराखंड की ओर से प्रतिनिधित्व करते हुए देश भर में दूसरा स्थान प्राप्त कर देवभूमि का मान बढाया। प्रज्ञा बैण्ड ने महामहिम राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के स्वागत के अवसर पर किये गये प्रदर्शन के आधार पर प्राप्त किया। गौरतलब है कि यह सम्मान उत्तराखण्ड को पहली बार मिला। शांतिकुंज लौटने पर युग निर्माण स्काउट गाइड जनपद शांतिकुज के अभिभावक डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने टीम को बधाई दी।

इस अवसर पर डॉ. पण्ड्याजी ने कहा कि स्काउट् गाइड्स एक ऐसा संगठन है जो सेवाधर्म और कर्त्तव्यनिष्ठा की शिक्षा देता है तथा देश को सेवाभावी युवा प्रदान करता है। स्काउट्स गाइड्स की गतिविधियों में शामिल होने वाले सेवाभावी आने वाले दिनों के धरोहर हैं जो समाज व राष्ट्र की सेवा कर उसे आगे बढ़ाने का कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि आज राष्ट्र को सेवाभावी युवाओं की जरूरत है और आाशा है स्काउटस गाइडस के प्रतिभागी इस उद्देश्य को पूरा करेंगे।

लीडर ट्रेनर श्री नरेन्द्र सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय जम्बूरी में युगनिर्माण स्काउट्स गाइड्स, जनपद शांतिकुंज तथा देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के २६ सदस्यीय टीम ने भागीदारी की। इस आयोजन में शांतिकुंज जनपद के प्रज्ञाबैंड ने शानदार प्रदर्शन करते हुए भारत भर में दूसरा स्थान प्राप्त किया। साथ ही राष्ट्रीय जम्बूरी में आयोजित एडवेंचर, फूड प्लाजा सहित १६ प्रतियोगिताओं में से ११ प्रतियोगिताओं में एवार्ड शांतिकुंज सहित देवभूमि के स्काउट्स गाइड्स को मिला। शांतिकुंज जनपद के लीडर ट्रेनर श्री सीताराम सिन्हा, श्री मंगल गढ़वाल, श्री सोमेश्वर ताण्डी व श्रीमती कविता भागबोले के नेतृत्व में दल ने विभिन्न प्रदर्शन किये।