Published on 2017-02-02
img

रांची (झारखण्ड) :

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के छात्र- प्रत्यूष सिन्हा, प्रभाकर तिवारी एवं पिन्टु कुमार महतो ने रांची के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में देवसंस्कृति विश्वविद्यालय एवं युग निर्माण मिशन के रचनात्मक कार्यक्रमों को प्रसारित करने की सार्थक पहल की। छात्रों ने एक माह के इंटर्नशिप के दौरान राँची, सोसई, बडमू, ठाकुरगाँव, अकतान आदि के प्राथमिक, माध्यमिक व महाविद्यालयों में देसंविवि व शांतिकुंज से प्राप्त ज्ञान को सार्थक करते हुए अपने अनुभव बाँटे। इन्होंने अपने कार्यक्रम के दौरान छात्र- छात्राओं को स्वस्थ जीवन के लिए योग तथा मानसिक दृढ़ता के लिए ध्यान का अभ्यास कराया। बच्चों को आनंदित करने वाली छोटी- छोटी कहानियों के माध्यम से उनमें राष्ट्रीयता के भाव विकसित करने के लिए प्रयास किये।

भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के स्थानीय समन्वयक एवं समाचार प्रेषक श्री बसंत प्रसाद व श्री ज्वाला गुड्डु के अनुसार देसंविवि के छात्रों ने रांची जनपद के ३१ विद्यालयों व महाविद्यालयों में जो भारतीय संस्कृति का खाद पानी देकर सींचा है, इससे आने वाले दिनों में इन्हें पुष्पित- पल्लवित होते हुए देखा जा सकेगा। श्रद्धेय डॉ. साहब व श्रद्धेया जीजी के प्रतिनिधि स्वरूप उन्हें अपने बीच पाकर यहाँ के छात्र- छात्राएँ रोमांचित हैं। उनके बताये सूत्र- योग, ध्यान एवं श्रेष्ठ साहित्य का अध्ययन नियमित रूप से करते रहने का संकल्प लिया।

कोरबा (छत्तीसगढ़) :
देवसंस्कृति विश्वविद्यालय की छात्रा- स्वाति सैनी, दृष्टि शाह एवं कोमल चौहान ने अपने परीवीक्षा काल में कोरबा जिले के ९ विद्यालयों में शारीरिक क्षमता बढ़ाने एवं मानसिक स्थिरता के विविध आयामों की जानकारी दी।

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में कुलाधिपति श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी से गीता व ध्यान की कक्षा से मिली शिक्षा को बाँटते हुए विद्यार्थियों ने छात्र- छात्राओं की एकाग्रता के लिए योगाभ्यास कराया तो वहीं श्रेष्ठ विचारों से ओतप्रोत रहने के लिए प्रेरित किया। कहा कि विद्यार्थी जीवन ही भविष्य निर्माण का आधार होता है। इस समय जो जितना परिश्रम कर लेता है, वह उतना ही आगे बढ़ता और उन्नति करता है। जिस तरह के माहौल में रहेंगे, प्रायः उसी अनुरूप आगे का जीवन बनेगा। इसलिए अच्छे माहौल बनाने का प्रयास करना चाहिए।

देसंविवि की इन छात्राओं ने गजरा, तेलसरा, घुडदेवा, बुधरीवारा, मोंगरा सहित ९ विद्यालयों में छात्र- छात्राओं के विकास के लिए सकारात्मक दिशा दी।

स्थानीय विद्यार्थियों ने आगे चलकर देवसंस्कृति विश्व विद्यालय में अध्ययन करने की इच्छा प्रकट की एवं इस दिशा में सार्थक पहल करने का संकल्प लिया।

बलौदाबाजार (छत्तीसगढ़) :

गायत्री शक्तिपीठ बलौदा बाजार में १५ जनवरी को महिला जागृति शिविर का आयोजन किया गया जिसमें १५० बहिनों एवं ५० भाइयों ने भाग लिया। इस आयोजन में उषा किरण साहू एवं मीणा साहू ने नारी की गरिमा व सफल पारिवारिक जीवन के सूत्र बताए, साथ ही नारी को स्वस्थ, सुशिक्षित व स्वावलम्बी बनाने पर प्रकाश डालते हुए भारतीय संस्कृति की गौरवमयी परम्परा के अनुकूल जीवन जीने के संकल्प दिलाए। इस अवसर पर १० बहिनों का पुंसवन संस्कार भी सम्पन्न हुआ। शिविर को सफल बनाने में जिला समन्वयक श्री बुद्धेश्वर वर्मा, आर. के. वर्मा व श्री कौशल प्रसाद साहू आदि कार्यकर्त्ताओं का सराहनीय योगदान रहा।

जिले के कार्यकर्त्ताओं ने ५ नारी जागरण शिविर सफलतापूर्वक सम्पन्न कराये, जिनमें अनेक बहिनों को भावी पीढ़ी को सुदृढ बनाने की दिशा में प्रेरित किया गया।

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के बी. एससी अन्तिम वर्ष के छात्र श्री प्रणीत सिरोही, श्री तन्मय त्यागी एवं श्री रोहित कुमार ने अपने परिवीक्षा कार्यक्रम के तहत जिले के विद्यालयों, महाविद्यालयों, जेल परिसर व विभिन्न संगठनों में योग, प्राणायाम, जीवन जीने की कला, धर्म और विज्ञान के समन्वय जैसे विषयों पर कार्यशालाएँं आयोजित की एवं जीवन विद्या के आलोक केन्द्र के रूप में प्रतिष्ठित देसंविवि के क्रियाकलापों से अवगत कराया तथा पूज्य गुरुदेव के सृजन सन्देश सुनाए। उन्होंने युवाओं को देसंविवि में अध्ययन करने के लिए भावभरा आमंत्रण दिया।


Write Your Comments Here:


img

गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन

क्षमता का विकास करने का सर्वोत्तम समय युवावस्था - डॉ पण्ड्याराष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के युवाओं को तीन दिवसीय सम्मेलन का समापनहरिद्वार 17 अगस्त।गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में तीन दिवसीय युवा सम्मेलन का आज समापन हो गया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय राजधानी.....

img

संस्कारित युवा पीढ़ी के निर्माण से होगा राष्ट्र निर्माण: नीलिमा

अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में स्थानीय रामकृष्ण आश्रम परिसर में जिला युवा प्रकोष्ठ द्वारा 5 दिवसीय युवा व्यक्तित्व निर्माण शिविर का आयोजन किया गया है | जहाँ शिविरार्थी योग, आसान, ध्यान  समेत आध्यात्मिक और बौद्धिक ज्ञान प्राप्त कर.....

img

नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में गायत्री परिवार का प्रतिनिधित्व

Nepal 8/8/17:-अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के उपलक्ष्य में नेपाल में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विश्व युवा सम्मेलन में भारत देश की तरफ से अखिल विश्व गायत्री परिवार के (DIYA TEAM)  के सदस्य श्री पी डी सारस्वत व श्री अनुज कुमार वर्मा सम्मेलन में.....