Published on 2017-03-03

महाविद्यालय कनखल की करीब १०० युवतियों ने की भागीदारी
व्यक्तित्व विकास, योगाभ्यास व कुटीर उद्योग का लिया निःशुल्क प्रशिक्षण

हरिद्वार ३ मार्च।
शांतिकुंज ने युवा क्रांति वर्ष के अंतर्गत चलाये जा रहे कार्यक्रम के तहत कन्या महाविद्यालय कनखल की करीब १०० युवतियों का सात दिवसीय विशेष शिविर का शुक्रवार को समापन हो गया। समापन अवसर पर छात्राओं ने बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ, प्रौढ़ शिक्षा, नारी जागरण, वृद्धाश्रम क्यों? जैसे अनेक विषयों पर प्रेरणादायक नुक्कड नाटक प्रस्तुत किये।

विदाई सत्र को संबोधित करते हुए शांतिकुंज की डॉ. गायत्री शर्मा ने कहा कि वर्तमान समय की आवश्यकता है कि उपासना, साधना व आराधना के माध्यम अपना व्यक्तित्व का विकास कर समाज के विकास में अपना योगदान दें ।। आज चहुँओर नारियों की बराबर की भागीदारी है। डॉ. सुलोचना शर्मा ने कहा कि महिलाएँ राष्ट्र के भविष्य के रूप में एक बच्चे को जन्म देती है, इसलिये बच्चों के समुचित विकास के द्वारा राष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य को बनाने में वे सबसे बेहतर तरीके से योगदान दे सकती हैं। इसलिए नारी को सशक्त व सुदृढ़ होना ही चाहिए। उन्होंने नारी सशक्तिकरण के विविध पहलुओं पर विस्तार से जानकारी दी। कन्या महाविद्यालय की शिक्षिका डॉ. प्रेरणा पाण्डेय एवं डॉ. रेखा सिंह ने भी राष्ट्र के विकास में महिलाओं की सच्ची महत्ता और अधिकार विषय पर प्रकाश डाला।

समापन अवसर पर आशमॉ, प्रवीन, आइशा, सलमान, मीनाक्षी, कीर्ति, प्रिया, हरप्रीत कौर, प्रज्ञा, प्राची, जागृति आदि छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से नारी जागरण, प्रौढ़ शिक्षा, बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ जैसे अनेक विषयों पर हृदयस्पर्शी नुक्कड नाटक प्रस्तुत किया। घर- परिवार की प्रतिकूल परिस्थितियों के बीच आई इन छात्राओं ने शांतिकुंज परिवार से मिले अपनत्व एवं प्रशिक्षण की मुक्तकंठ से सराहना की।

सात दिन तक चले इस शिविर में देसंविवि की अनुराधा व रजनी ने छात्राओं को योगाभ्यास कराया, तो वहीं डॉ. ए.के. दत्ता, श्री प्रमोद भटनागर, श्री अशोक दास, ऋतु सिंह, राधा पाण्डेय आदि विषय विशेषज्ञों ने विभिन्न विषयों पर मार्गदर्शन दिया।


Write Your Comments Here:


img

शराब से पीड़ित जनमानस की आवाज बनकर उभरा है गायत्री परिवार का प्रादेशिक युवा संगठन

शराबमुक्त स्वर्णिम मध्य प्रदेश

अखिल विश्व गायत्री परिवार की मध्य प्रदेश इकाई ने सितम्बर माह से अपने राज्य को शराबमुक्त करने के लिए एक संगठित, सुनियोजित अभियान चलाया है। इस महाभियान में केवल गायत्री परिवार ही नहीं, तमाम सामाजिक, स्वयंसेवी संगठनों.....

img

ग्राम तीर्थ जागरण यात्रा

चलो गाँव की  ओर ०२ से ०८ अक्टूबर २०१७हर शक्तिपीठ/प्रज्ञापीठ/मण्डल से जुडे कार्यकर्त्ता अपने- अपने कार्यक्षेत्र (मण्डल) के ग्रामों की यात्रा पर निकलेंसंस्कारयुक्त, व्यसनमुक्त, स्वच्छ, स्वस्थ, स्वावलम्बी, शिक्षित एवं सहयोग से से भरे- पूरे ग्राम बनाने के लिये अभियान चलायेंएक.....