img

शांतिकुंज में नियमित रूप से चल रही त्रैमासिक युग संगीत प्रशिक्षण सत्र शृंखला का अगला शिविर 1 जुलाई 2013 से आरंभ हो रहा है।

इन शिविरों में भारतीय संत परंपरा के अनुरूप भक्तिभाव प्रवाहित करने वाले संगीत और युगगायन का प्रशिक्षण दिया जाता है। क्षेत्रीय कार्यक्रमों में संगीत की माँग को पूरा करने की दृष्टि से ये शिविर बहुत उपयोगी हैं।

इस प्रशिक्षण शिविर में वे ही भाई भाग लें, जो गायत्रीतीर्थ शांतिकुंज में एक मासीय युगशिल्पी या परिव्राजक सत्र कर चुके हैं। जो अपने क्षेत्र, शक्तिपीठ या टोलियों में संगीत के साथ अपना योगदान देते हैं या देना चाहते हैं। जो शक्तिपीठ-शाखाएँ संगीत की दृष्टि से स्वावलम्बी बनना चाहती हैं, वे योग्य परिजनों को इन शिविरों में भेजें।

शिविर आरंभ होने से पूर्व स्वीकृति अवश्य प्राप्त कर लें। सूचना एवं पूछताछ के लिए गायत्री तीर्थ शांतिकुंज के संगीत विभाग के फोन नंबर-01334-260602, 260403 एक्सटेंशन 190 से संपर्क करें।


Write Your Comments Here:


img

डॉ. चिन्मय पंड्या की नीदरलैंड यात्रा

देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पंड्या जी ने नीदलैंड्स की यात्रा के मध्य हेग में भारत के राजदूत श्री वेणु राजामोनी जी एवं उनकी सहधर्मिणी डॉ थापा जी से भेंट वार्ता की। इस क्रम में.....

img

डॉ. चिन्मय पंड्या की नीदरलैंड यात्रा

देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पंड्या जी ने नीदलैंड्स की यात्रा के मध्य हेग में भारत के राजदूत श्री वेणु राजामोनी जी एवं उनकी सहधर्मिणी डॉ थापा जी से भेंट वार्ता की। इस क्रम में.....

img

डॉ. चिन्मय पंड्या की इक्वाडोर के राजदूत श्री हेक्टर क्वेवा के साथ भेंट

स्मृति के झरोखों से देव संस्कृति विश्वविद्यालय में इक्वाडोर के राजदूत श्री हेक्टर क्वेवा पधारे एवं विश्व विद्यालय के प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पंड्या जी से मुलाकात की। उनकी यात्रा के दौरान इक्वाडोर से आए प्रतिभागियों के.....