Published on 2017-04-07
img


बुलंदशहर (उत्तरप्रदेश) :
जिलाधिकारी श्री आन्जनेय कुमार एवं शांतिकुंज के वरिष्ठ प्रतिनिधि श्री एच.पी. सिंह के मुख्य आतिथ्य में भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के जिला स्तर पर प्रावीण्य सूची में आये विद्यार्थियों का पुरस्कार वितरण समारोह सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि भारतीय संस्कृति के बल पर ही भारत विश्वगुरु रहा है। इसकी पुनः प्राप्ति के लिए गायत्री परिवार की सक्रियता प्रशंसनीय है। शांतिकुंज प्रतिनिधि श्री सिंह ने भासंज्ञाप के इतिहास एवं महत्त्व पर प्रकाश डाला। गायत्री चेतना केन्द्र नोएडा के प्रभारी श्री आर.एन. सिंह, उपजोन संयोजक श्री कुलदीप मित्तल, उपजोन सह संयोजक श्री अनिल शर्मा, श्री राजवीर शर्मा आदि ने विद्यार्थियों का मार्गर्दर्शन किया।

जैसलमेर (राजस्थान) :
स्थानीय करणी बाल विद्या मंदिर में जिला स्तर पर भासंज्ञाप में प्रावीण्य सूची में आये विद्यार्थियों के सम्मान समारोह का आयोजन हुआ।

मुख्य अतिथि आई.एफ.एस. सुश्री सुदीप कौर, विशिष्ट अतिथि अतिरिक्त जिला शिक्षाधिकारी श्री कमल किशोर व्यास आदि अतिथियों ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए सफलता के विविध सूत्रों से अवगत कराया। अतिथियों ने छात्र- छात्राओं को स्मृति चिह्न, प्रशस्ति पत्र व जीवनोपयोगी साहित्य भेंट कर सम्मानित किया। जिला संयोजक श्री आशुनाथ गोस्वामी ने जिला स्तर पर किये जा रहे कार्यक्रमों का प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।

करनाल (हरियाणा) :
विद्यार्थिर्यों को भारतीय संस्कृति की ओर आकर्षित करने के उद्देश्य से चलाई जा रही भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा में जिला स्तर पर प्रावीण्य सूची में आये छात्र- छात्राओं के पारितोषिक वितरण समारोह का आयोजन हुआ। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डीएवीपीजी कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. वाई. पी. शर्मा, समाजसेवी डॉ. वी.के. कौशिक आदि महानुभावों ने विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करते हुए सफलता के लिए कड़ी मेहनत करने पर बल दिया।

झालावाड़ (राजस्थान) :
भासंज्ञाप में कक्षा- ५ से १२ तक में जिला स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय आये मेधावी बच्चों का सम्मान समारोह गायत्री शक्तिपीठ झालावाड़ में सम्पन्न हुआ। साथ ही उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले २० शिक्षकों को सम्मानित किया गया।

मुख्य अतिथि जिला प्रमुख सुश्री टीना भील ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि इस परीक्षा के माध्यम से छात्र- छात्राओं में अच्छे संस्कार पैैदा होते हैं। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि डीईओ श्री पारस जैन, शक्तिपीठ के व्यवस्थापक श्री मोहन लाल राठौड़, श्री उदयभान सिंह, परीक्षा संयोजक डॉ. सुशीला शर्मा आदि महानुभावों ने अपने विचार रखे।

सीतापुर (उत्तरप्रदेश) :
भासंज्ञाप के जिला स्तर पर प्रावीण्य सूची में आये छात्र- छात्राओं का पुरस्कार वितरण समारोह राजकीय इंटर कॉलेज परिसर में हुआ। सुश्री शालिनी एवं सुश्री पल्लवी की सरस्वती वंदना से समारोह का शुभारंभ हुआ।

पूर्व मंडल आयुक्त श्री राकेश मित्तल की उपस्थिति में जिला स्तर के २७ तथा तहसील स्तर के १८३ विद्यार्थियों को प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिह्न आदि भेंटकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अतिथियों ने विद्यार्थियों को भारतीय संस्कृति के उन्नयन की दिशा में कदम बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। सभी ने एक स्वर में कहा कि जिसने भी अपनी किशोरावस्था को सँभाल लिया, उसने भविष्य में अपना नाम स्वर्णाक्षरों में लिखाया है और आज समाज उनके पद चिह्नों पर चलने के लिए खड़ा दिखाई देता है। 


इस अवसर पर सर्वश्री शिवकुमार जायसवाल, सुनील वाजपेयी, रविन्द्र दीक्षित आदि अतिथियों ने युग निर्माण आंदोलन से जुड़ने एवं आत्म सुधार के लिए स्वयं पहल करने हेतु प्रेरित किया। सीता इंटर कॉलेज महमूदाबाद को उसके उत्कृष्ट सहयोग एवं भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए विशेष रूप से सम्मानित किया गया।

शाजापुर (मध्यप्रदेश) :
गायत्री शक्तिपीठ शाजापुर में भासंज्ञाप के जिला स्तरीय पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन हुआ। मुख्य अतिथि अपर कलेक्टर श्रीमती मीनाक्षी सिंह, जिला समन्वयक श्री शैलेन्द्र श्रीवास्तव, श्री के.के. अवस्थी आदि ने मेधावी बच्चों को स्मृति चिह्न, प्रशस्ति पत्र, नकद राशि से सम्मानित किया।

इंदौर (मध्यप्रदेश) :
गायत्री शक्तिपीठ केशरबाग रोड में तहसील एवं जिला स्तर पर प्रावीण्य सूची में आये विद्यार्थियों का पारितोषिक वितरण समारोह हुआ। इस दौरान मुख्य अतिथि मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण इकाई के वरिष्ठ वैज्ञानिक श्री सुरेश व्यास ने विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ- साथ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित किया। वैज्ञानिक तरीके से उन्होंने पर्यावरण के अनेक लाभों से अवगत कराया।

इस अवसर पर अनेक विद्यार्थियों ने अपने जन्मदिन पर वृक्षारोपण करने का संकल्प लिया। विशिष्ट अतिथि डॉ. ए.के. पालीवाल, मुख्य प्रबंध ट्रस्टी श्री सजल तिवारी, श्रीमती उषा तिवारी गायत्री शक्तिपीठ कनाडिया के प्रबंध ट्रस्टी श्री शंकरलाल शर्मा, उपजोन प्रभारी श्री पी.डी. दुबे आदि ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए उनके भविष्य निर्धारण में सद्ज्ञान की आवश्यकता पर बल दिया। श्री राधेश्याम कासट ने सभी का आभार प्रकट किया।


Write Your Comments Here:


img

शराब से पीड़ित जनमानस की आवाज बनकर उभरा है गायत्री परिवार का प्रादेशिक युवा संगठन

शराबमुक्त स्वर्णिम मध्य प्रदेश

अखिल विश्व गायत्री परिवार की मध्य प्रदेश इकाई ने सितम्बर माह से अपने राज्य को शराबमुक्त करने के लिए एक संगठित, सुनियोजित अभियान चलाया है। इस महाभियान में केवल गायत्री परिवार ही नहीं, तमाम सामाजिक, स्वयंसेवी संगठनों.....

img

ग्राम तीर्थ जागरण यात्रा

चलो गाँव की  ओर ०२ से ०८ अक्टूबर २०१७हर शक्तिपीठ/प्रज्ञापीठ/मण्डल से जुडे कार्यकर्त्ता अपने- अपने कार्यक्षेत्र (मण्डल) के ग्रामों की यात्रा पर निकलेंसंस्कारयुक्त, व्यसनमुक्त, स्वच्छ, स्वस्थ, स्वावलम्बी, शिक्षित एवं सहयोग से से भरे- पूरे ग्राम बनाने के लिये अभियान चलायेंएक.....