Published on 2017-05-23
img

हरिद्वार, २३ मई।

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार संस्थान नई दिल्ली के चिकित्सकों का योग, आयुर्वेद, अस्पताल प्रबंधन जैसे जीवनोपयोगी विषय पर सात दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ हुआ। प्रशिक्षण सत्र का उद्घाटन देसंविवि के कुलपति श्री शरद पारधी एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य सेवा के सहायक प्राध्यापक डॉ. दिवाकर यादव ने संयुक्त रूप से किया।

उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि देसंविवि के कुलपति श्री शरद पारधी ने कहा कि वर्तमान समय में लोग स्वास्थ्य संबंधी अनेक समस्याओं से जुझ रहे हैं, ऐसे में चिकित्सकों की भूमिका अत्यंत महत्त्वपूर्ण है। सच्चे एवं सेवाभावी चिकित्सक समाज के वातावरण को स्वस्थ बनाने में अतुलनीय सहयोग दे सकते हैं। शारीरिक एवं मानसिक बीमारियाँ जिस तरह से बढ़ रही हैं, ऐसे समय में योग, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा संबंधी समग्र जानकारी वाले चिकित्सकों की महती आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि देसंविवि में समग्र स्वास्थ्य प्रंबधन जैसे विषयों पर विशेष शोधपरक कार्य हो रहा है। इससे आप सभी अवगत होंगे। कुलपति ने कहा कि देसंविवि का उद्देश्य एक सच्चे, समाजसेवा, समर्पित इंसान को तैयार करना है, जिसके अंदर संवेदना, करुणा, दया आदि का भाव हो।

केन्द्रीय स्वास्थ्य सेवा के सहायक प्राध्यापक डॉ. दिवाकर यादव ने कहा कि चिकित्सक दल देसंविवि के दिव्य वातावरण में आकर अभिभूत हैं। हमारे लिए यहाँ सीखने को बहुत कुछ है। योग एवं आयुर्वेद में देसंविवि एक ऊँचाई प्राप्त कर चुका है। हम सब वैज्ञानिक तरीकों से इसे समझने का प्रयास करेंगे।

देसंविवि के पर्यटन प्रबंधन के समन्वयक डॉ अरूणेश पराशर ने धन्यवाद ज्ञापित किया। उद्घाटन सत्र में केन्द्रीय स्वास्थ्य सेवा के चिकित्सक दल, देसंविवि से डॉ सौरभ मिश्रा, डॉ सुधांशु वर्मा, सौरभ श्रीवास्तव, प्रखर सिंह पाल सहित कई शिक्षकगण मौजूद थे। मंच संचालन डॉ. गोपाल शर्मा ने किया। शिविर के दौरान चिकित्सकीय दल योग, आयुर्वेद, अस्पताल प्रबंधन, जीवन प्रबंधन जैसे महत्त्वपूर्ण विषयों पर प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।


Write Your Comments Here:


img

शराब से पीड़ित जनमानस की आवाज बनकर उभरा है गायत्री परिवार का प्रादेशिक युवा संगठन

शराबमुक्त स्वर्णिम मध्य प्रदेश

अखिल विश्व गायत्री परिवार की मध्य प्रदेश इकाई ने सितम्बर माह से अपने राज्य को शराबमुक्त करने के लिए एक संगठित, सुनियोजित अभियान चलाया है। इस महाभियान में केवल गायत्री परिवार ही नहीं, तमाम सामाजिक, स्वयंसेवी संगठनों.....

img

ग्राम तीर्थ जागरण यात्रा

चलो गाँव की  ओर ०२ से ०८ अक्टूबर २०१७हर शक्तिपीठ/प्रज्ञापीठ/मण्डल से जुडे कार्यकर्त्ता अपने- अपने कार्यक्षेत्र (मण्डल) के ग्रामों की यात्रा पर निकलेंसंस्कारयुक्त, व्यसनमुक्त, स्वच्छ, स्वस्थ, स्वावलम्बी, शिक्षित एवं सहयोग से से भरे- पूरे ग्राम बनाने के लिये अभियान चलायेंएक.....