दक्षिण अफ्रीका के गायत्री आश्रम, लेनेशिया में गुरुपूर्णिमा पर्व 1 जुलाई को सात कुण्डीय गायत्री महायज्ञ के साथ मनाया गया। शांतिकुंज के परिव्राजक श्रीमती ज्योत्सना एवं श्री प्रकाश मोदी द्वारा संचालित इस कार्यक्रम ने लोगों में युग की अवतारी चेतना और उनके मिशन के प्रति आस्था बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

29 जून को स्थानीय ईस्टवेव रेडियो पर प्रसारित शांतिकुंज प्रतिनिधियों के साक्षात्कार ने इस कार्यक्रम की सफलता की आधार शिला रखी। साक्षात्कार इतना प्रभावशाली था कि शांतिकुंज प्रतिनिधियों से चर्चा करने वाली श्रीमती सरिता बहिन भी अपने साथ घटी के लिए ऋषियुग्म के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करने से रोक नहीं सकीं। गायत्री महामंत्र के महत्त्व और गुरुपूर्णिमा के आमंत्रण के बाद से ही लोगों ने फोन से अपने आने की सूचना देना और भविष्य में अपने यहाँ कार्यक्रमों की बुकिंग कराना आरंभ कर दिया था।
http://news.awgp.org/var/news/24/SA%202.jpg" height="105" width="140">
गुरुपूर्णिमा पर्व पर प्रात: सात कुण्डीय यज्ञ हुआ। श्रीमती नीला एवं श्री रावजी जावी ने कलश पूजन, श्रीमती अंजना एवं डॉ. उदयभाई काला ने गुरु पूजन, श्रीमती लता बेन एवं श्री विजयभाई ने गणेश पूजन और  श्रीमती रोशनी बेन सुरेश भाई ने नवग्रह पूजन का विशेष कर्मकाण्ड सम्पन्न कराया। यज्ञोपरांत
 श्री अरविंद भाई ने सपत्नीक गुरु पादुका पूजन किया, तत्पश्चात् सभी ने पादुका प्रणाम करते हुए पावन गुरुसत्ता को अपनी संकल्प श्रद्धांजलि अर्पित की। यज्ञोपरांत अखंड जप आरंभ हुआ, जिसकी पूर्णाहुति दीपयज्ञ द्वारा की गयी।

गुरुपूर्णिमा-3 जुलाई के दिन श्री चंदूभाई देसाई के सहयोग से घर-घर पादुका पूजन के कार्यक्रम आयोजित हुए।


Write Your Comments Here:


img

बाढ़ राहत अभियान गायत्री परिवार भिवंडी मुम्बई

गायत्री परिवार भिवंडी के सहयोग से आज कोल्हापुर में डॉ दिपक सालुंखे प्राथमिक विद्या मंदिर एवं राजऋषि छत्रपति शाहू महाराज हाई स्कूल के बाढ़ पीड़ित छात्र छात्राओं को 400 स्कूली बेग वितरित किया गया। इस वितरण अभियान में इचलकरंजी गायत्री.....

img

विदेशी धरती पर खिले भारतीय संस्कृति के रंगगायत्री परिवार

अटलांटिक सिटी (अमेरिका) ने स्वतंत्रता दिवस पर भारत की गौरवशाली संस्कृति और युग निर्माण आन्दोलन के सूत्र- सिद्धांतों से लोगों.....