Published on 2017-08-26

 Badwani -M.P.26/8/17:-व्यसन मुक्ति महाअभियान के अंतर्गत आदिवासी संत डेमनिया बाबा ने 850 आदिवासी भाइयों को शराब छोड़ने का संकल्प दिलवाया।  धार, खरगोन, झाबुआ, आलीराजपुर जिलो से 5000 आदिवासी भाई बहन ने भागीदारी की | बडवानी जिले के ग्राम सालीटांडा में आज पाच हजार व्यक्तिओ की उपस्थिति में जनेऊ संस्कार एवं व्यसन मुक्त अभियान, पंच कुण्डीय गायत्री यज्ञ के साथ सम्पन्न हुआ । इस अवसर पर 124 पोध रोपण भी किया गया। ज्ञात हो की डेमनिया भाई ने 1977 में गायत्री परिवार से जुड़कर लगभग एक लाख आदिवासियों को व्यसन मुक्त करा कर समाज निर्माण में सहयोगी बनाया। 1981 से प्रति वर्ष अपने ग्रह ग्राम सालीटांडा में जनेऊ संस्कार का आयोजन ऋषि पंचमी पर करते है। उन्होंने कृषि भूमि का एक हिस्सा गुरुदेव से प्रभावित होकर मिशन के कार्य के लिए दान दे दिया है। कृषि से जो आय होती है उसमे ऋषि पंचमी आयोजन भोजन आवास व्यवस्था बनती है।

म. प्र. शाशन राज्यपाल महावीर जी से व्यसन मुक्ति आन्दोलन के लिए डेमनिया बाबा सम्मानित हो चुके है।





Write Your Comments Here:


img

नशामुक्ति के लिए गांव-गांव जाकर गायत्री परिवार के सदस्य कर रहे लोगों को जागरूक

गांव के लोगों को नशा से मुक्त करने के लिए गायत्री परिवार के सदस्य गांव-गांव जाकर जागरूक कर रहे हैं। रविवार को कृषि उपज मंडी में गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ के सदस्यों ने मंडी में पहुंचे किसानों को नशामुक्ति की.....

img

व्यसन मुक्ति अभियान औरंगाबाद

औरंगाबाद  : व्यसन मुक्ति अभियान अंतर्गत शांतिकुंज से आए रथ के औरंगाबाद मे १२ जगह पर शानदार कार्यक्रम सम्पन्न हुवे। जिसमें से ५ गाँव मे लगभग सभी जगह २०० के आस पास संख्या रही। ३ कार्यक्रम सोसायटी मे सम्पन्न हुवे। जिसमें संख्या लगभग.....

img

नशा छोड़ रहे हैं चाय बागानों में काम करने वाले लोग

अत्रिघाट, उदालगुड़ी। असमगायत्री चेतना केन्द्र, बेहारबाड़ी, गुवाहाटी एवं युवा इकाई दिया ने पूर्वोत्तर भारत की समृद्धि हेतु अत्रिघाट के चाय बगानों में नशामुक्ति अभियान चला रखा है। वहाँ २७ मई को एक नशामुक्ति जागरूकता रैली निकाली गई। इसके कम्युनिटी हॉल.....