Published on 2017-09-07
img

सघन वृक्षारोपण अभियान से हो रहे हैं रूठी प्रकृति को मनाने के प्रयास 
ड्रिप सिस्टम से सींचे पेड़ आने लगी हैं पक्षियों की मधुर आवाजें उपवनों में बनायी जा रही हैं गोशालाए १५ गाँवों में बने  वन- उपवन;  विकसित हो चुके हैं १५ से ३० फीट ऊँचे २४००० पेड़  
खण्डवा। मध्य प्रदेश 
खण्डवा जिले के नैष्ठिक कार्यकर्त्ताओं ने जन्मशताब्दी वर्ष- २०११ वृक्षगंगा अभियान के अंतर्गत अपने भागीरथी प्रयास आरंभ कर दिये थे, जिसका सत्परिणाम आज वहाँ प्रत्यक्ष देखा जा सकता है। श्री बृजेश पटेल के अनुसार जिले में सिरसोद, डाबी, आरूद, खालवा, जूनापानी, छुट्टियाँ, हरसूद, धनगाँव, मोटका माफी, सुरगाँव बंजारी, मूँदी, पुनासा, पंधाना, सिंगोट, इनपुट गोगाँवा, ओंकारेश्वर, छैगाँव माकन आदि १५ मुख्य स्थानों पर २४००० पौधे लगाये गये थे। ये आज १५ से ३० फीट ऊँचे वृक्ष बन चुके हैं। इस महान उपलब्धि को प्रत्यक्ष देखा जा सकता है। 
श्री बृजेश पटेल के अनुसार इस महान सफलता में स्थानीय ग्रामवासियों ने जिस निष्ठा का प्रदर्शन किया, वह वंदनीय है। लोगों ने अपने खेतों की सिंचाई से पहले इन पेड़ों को पानी देने का ध्यान रखा। अनेक स्थानों पर ड्रिप सिस्टम से सिंचाई कर इन पेड़ों का जिन्दा रखा गया, इनकी सुरक्षा के भी उपाय किये गये। 
सिरसोद ग्राम में लगाये गये वन में इन दिनों एक गोशाला बनायी गयी है, जिसमें २४ गौमाता पल रही हैं। 
सुकता डैम के किनारे भी ५००० पेड़ लगाये गये हैं, जिनकी सिंचाई ड्रिप सिस्टम से होती है। इनके अलावा बरुण, सुकवि व जामली में भी बृहद् स्तर पर वृक्षारोपण हुआ है। 


Write Your Comments Here:


img

dqsdqsd

sqsqdsqdqs.....

img

sqdqsdqsdqsd.....

img

Op

gaytri shatipith jobat m p.....