Published on 2017-09-09

भारत के राष्ट्रपति महामहिम श्री रामनाथ कोविंद तथा उपराष्ट्रपति माननीय श्री वैंकया नायडू दोनों ही गायत्री परिवार की गतिविधियों से भलीभाँति परिचित हैं और पूर्व में आदरणीय डॉ. साहब की उपस्थिति में आयोजित बड़े कार्यक्रमों में भाग ले चुके हैं। अखिल विश्व गायत्री परिवार के प्रमुख प्रतिनिधि आदरणीय डॉ. प्रणव पण्ड्या जी एवं गायत्री परिवार के हजारों लोगों ने उनके निर्वाचन और शपथ ग्रहण के समय उन्हें अपनी शुभकामनाएँ प्रेषित की थीं। 
आदरणीय डॉ. साहब क्रमश: १८ एवं १९ अगस्त को व्यक्तिगत रूप से भी उन्हें अपनी शुभकामनाएँ देने उनके आवास पर पहुँचे। उन्होंने गायत्री महामंत्रयुक्त उपवस्त्र एवं युगसाहित्य भेंट कर दोनों महानुभावों का सम्मान किया। इस अवसर पर हुई शिष्टाचार वार्ता में राष्ट्र के उत्कर्ष की संभावनाओं और योजनाओं पर संक्षिप्त चर्चा हुई। 


Write Your Comments Here:


img

11 जनवरी, देहरादून। उत्तराखंड ।

दिनांक 11 जनवरी 2020 की तारीख में देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रतिकुलपति आदरणीय डॉक्टर चिन्मय पंड्या जी देहरादून स्थित ओएनजीसी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड यंग लीडर्स कॉन्क्लेव 2020 कार्यक्रम में देहरादून पहुंचे जहां पर उन्होंने उत्तराखंड राज्य के विभिन्न.....

img

ज्ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....

img

ञानदीक्षा समारोह में लिथुआनिया सहित देश के 12 राज्यों के नवप्रवेशी विद्यार्थी हुए दीक्षित

देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्या ने कहा कि जो आचरण से शिक्षा दें वही आचार्य है और ऐसे आचार्यगण ही विद्यार्थियों को चरित्रवान बना सकते हैं। डॉ. पण्ड्या ने कहा कि जिस तरह चाणक्य ने अपने ज्ञान व.....