Published on 2017-09-17
img

हरिद्वार १६ सितम्बर।देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के पर्यावरण विभाग द्वारा विश्व ओजोन दिवस पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सिम्पोजिम का आयोजन हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रतिकुलपति डॉ०चिन्मय पण्ड्या ने दीप प्रज्वलन कर किया। 
इस अवसर पर डॉ० चिन्मय पण्ड्याजी ने कहा कि वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाय तो यह ओजोनपरत खरतनाक किरणों को हमारे प्रकृति पर आने से रोकती है। इस परत में छेद होने से पर्यावरण संबंधी नुकसान होते हैं। उन्होंने कहा कि वृक्ष, वनस्पतियाँ एवं पर्यावरण को मित्रभाव से इसी कारण पूजा जाता था कि वे हमें सकारात्मक लाभ प्रदान करें। इसके साथ ही वायुमण्डल को समृद्ध करने हेतु वसुधैव कुटुंबकम् के भाव को अपना कर प्रकृति का संरक्षित विकास किया जा सके। कुलसचिव श्री संदीप कुमार ने भारतीय संस्कृति के च्सर्वे भवन्तु सुखिनः पक्ष को समझाया। 
पर्यावरण विभाग के समन्वयक डॉ० पंकज सैनी ने कहा कि ग्लोबल वार्मिर्ंग के कारण ओजोन में हो रही समस्याओं पर विश्व एकजुट तो है, परंतु वहाँ सार्वभौमिक एकता की जरूरत है। डॉ० सुधांशुु कौशिक ने कहा कि इस प्रकृति में वायुमण्डल का बहुत महत्व है। वायुमण्डल की  परतों का नुकसान सीधा- जीवन को नुकसान है। दो दिवसीय इस कार्यक्रम में प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के साथ- साथ पोस्टर, कोलाज मेकिंग, सफाई एवं जागरूकता जैसे अनेक कार्यक्रम हुए। 
कार्यक्रम समापन पर डॉ०सुशील भदूला ने अतिथियों, शिक्षकों एवं विद्यार्थियों का आभार व्यक्त किया। इस संगोष्ठी में राजकीय महाविद्यालय ऋषिकेश के प्रो० वी.डी. पाण्डे एवं प्रो० डी.एम. त्रिपाठी ने ओजोन परत के क्षरण से होने वाले विपरीत प्रभावों को समझाया। इस अवसर पर विज्ञान संकायाध्यक्ष प्रो० अभय सक्सैना, कला संकायाध्यक्ष प्रो० सुरेश वर्णवाल, डॉ० नरेन्द्र सिंह, डॉ. अरूणेश पराशर, डॉ. उमाकान्त इंदौलिया, डॉ. ममता भारद्वाज, डॉ. अवनेन्दु पाण्डेय इत्यादि लोग उपस्थित रहे। 


Write Your Comments Here:


img

समाज को सकारात्मकता एवं सृजनात्मक उत्कृष्टता की ओर प्रेरित करते कार्यक्रम

पीड़ित युवतियों के उत्थान के प्रयासरेस्क्यू फाउण्डेशन में जाकर मनाया जन्मदिवसबोरीवली, मुंबई। महाराष्ट्ररेस्क्यू फाउंडेशन देह व्यापार से छुड़ाई गई युवा लड़कियों के पुनर्वास के लिए काम करने वाली स्वयंसेवी संस्था है, जो पूरे महाराष्ट्र में सक्रिय है। दिया, मुम्बई के.....

img

1126 जोड़ों का सामूहिक विवाह संस्कार

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश श्रम विभाग प्रयाजराज की ओर से दिनांक 13 मार्च को सामूहिक विवाह का विशाल समारोह आयोजित किया गया। माघ मेला, परेड ग्राउण्ड में आयोजित इस संस्कार समारोह में 1126 जोड़ों ने और 18 मुस्लिम जोड़ों ने गृहस्थ.....

img

छत्तीसगढ़ में नारी सशक्तीकरण के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण

‘विजन 2026’ के साथ हो रहे हैं कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के प्रान्तीय संगठन द्वारा ‘विजन-2026’ को लेकर 11 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक बहिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। यह प्रशिक्षण परम वंदनीया माताजी की जन्मशताब्दी वर्ष.....