युवाओं को सही दिशा देने का नाम उन्नयन : डॉ पण्ड्याजी

Published on 2017-10-11
img

देसंविवि के उन्नयन- १७ में युवाओं ने दिखाए हूनर

हरिद्वार ११ अक्टूबर।

युवा अपने हर कदम के साथ आगे बढ़े, बढ़ता रहे, प्रगति करता रहे। जीवन में आने वाली कष्ट- कठिनाइयों को पार करते हुए अपनी श्रेष्ठतर प्रतिभा को समाज को अर्पित करे। यह कहना था देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉ प्रणव पण्ड्याजी का। वे देवसंस्कृति विवि के उन्नयन- १७ के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि युवाओं का मन वायु के समान चंचल है जो कहीं ठहरता नहीं। उसमें नये दृश्य, नयी उमंग, नयी कल्पनाएं सदा उभरती रहती हैं। उन्न्यन के माध्यम से उसे सही दिशा देने का काम किया जाता है। देसंविवि ऐसे युवा गढ़ने का कार्य कर रहा है जो देश की प्रगति में सहायक बन सकें। देसंविवि के कुलपिता पं० श्रीराम शर्मा आचार्य जी ने अपनी युवावस्था में कई प्रतिकूलताओं का सामना करते हुए कई नये आयाम खोले। उनके तप- मेहनत का ही परिणाम है कि गायत्री परिवार आज वटवृक्ष की भांति फैलता दिखाई दे रहा है। इसके अलावा उन्होंने स्वच्छता के संबंध में भी मार्गदर्शन दिया।

उन्नयन देसंविवि द्वारा शुरु की गई एक नई पहल है जो पुराने छात्रों द्वारा नवांगतुक छात्रों के स्वागत के उपलक्ष्य में आयोजित होता है। आज विश्वविद्यालयों में रैंगिग एक समस्या के रूप में उभरा है, वहीं देसंविवि की यह पहल अपने आप अनूठी है। देवसंस्कृति विश्वविद्यालय में सीनियर छात्र- छात्राओं द्वारा अपने विश्वविद्यालय के नवप्रवेशी छात्रों के स्वागत में एक विशेष कार्यक्रम 'उन्नयन' आयोजित होता है। उन्नयन २०१७ में सीनियर विद्यार्थियों ने प्यार और सहकार के साथ नये छात्रों को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं ने कई सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर देसंविवि के कुलपति श्री शरद पारधी, प्रतिकुलपति डॉ चिन्मय पण्ड्याजी, कुलसचिव श्री संदीप कुमार सहित विवि के समस्त अधिकारी एवं छात्र- छात्राएँ मौजूद रहे।

img

तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रतिभाशालियों की प्रशिक्षण शिविर का समापन

सद्गुणों की खेती करना सिखाती है संस्कृतिः डॉ पण्ड्याजीमेधावियों को किया गया सम्मानित, विद्यार्थियों ने कहा- अनमोल है यह सम्मानहरिद्वार, १८ मई।गायत्री परिवार के अभिभावक डॉ. प्रणव पण्ड्याजी ने कहा कि भारतीय संस्कृति सद्गुणों की खेती करना सिखाती है। जिस.....

img

शांतिकुंज पहुँचे विहिप के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष

हरिद्वार, १२ मई।विश्व हिन्दू परिषद के नवनिर्वाचित अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री विष्णु सदाशिव कोकजे गायत्री परिवार प्रमुखद्वय डॉ. प्रणव पण्ड्याजी व शैलदीदीजी से भेंट परामर्श करने प्रातः ८.३० बजे गायत्री तीर्थ शांतिकुंज पहुँचे। यहाँ करीब चालीस मिनट तक चले भेंट में.....

img

ग्रांड मास्टर ऑफ योगा प्रतियोगिता में छाये देसंविवि के विद्यार्थी

ग्रांड मास्टर ऑफ योगा प्रतियोगिता में छाये देसंविवि के विद्यार्थी१३ राज्यों के प्रतिभागियों को पछाड कर प्रथम व तृतीय रहेहरिद्वार, १० मई।प्रगति मैदान दिल्ली में आयोजित ग्रांड मास्टर ऑफ योगा प्रतियोगिता में देवसंस्कृति विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों ने उत्कृष्ट प्र्रदर्शन करते.....


Write Your Comments Here: